उस फेमस टैटू का क्या होगा?

संयुक्त राज्य अमेरिका के Augustus Maiyo, पेरू के Willy Canchanya, पैराग्वे के Derlys Ayala, अर्जेंटीना के Juan Joel Pacheco Orozco, Mariano Mastromarino और ग्वाटेमाला के Juan Carlos Trujillo, Parque Kennedy में पुरुषों की मैराथन में प्रतिस्पर्धा करते हैं। (Patrick Smith/ गेटी इमेज द्वारा फोटो)
संयुक्त राज्य अमेरिका के Augustus Maiyo, पेरू के Willy Canchanya, पैराग्वे के Derlys Ayala, अर्जेंटीना के Juan Joel Pacheco Orozco, Mariano Mastromarino और ग्वाटेमाला के Juan Carlos Trujillo, Parque Kennedy में पुरुषों की मैराथन में प्रतिस्पर्धा करते हैं। (Patrick Smith/ गेटी इमेज द्वारा फोटो)

ओलंपिक खेलों 2020 के स्थगित होने के बाद, पैराग्वे के एथलीट, Derlys Ayala सोशल मीडिया हैंडल पर प्रकाशित एक पोस्ट की वजह से सुर्खियों में रहे हैं। खैर, यह पोस्ट "टोक्यो 2020" टैटू के बारे में है जो उन्होंने अपने पैर पर बनवाया था। अब चूंकि ओलंपिक अगले साल आयोजित किए जाएंगे, क्या वह अब अपना टैटू बदल देंगे?

Derlys Ayala के खून में ओलंपिक है।

जी हाँ।

पैराग्वे के एथलीट ने रियो 2016 में प्रतिस्पर्धा की और पिछले सितंबर में टोक्यो 2020 के लिए अपना टिकट बुक किया। दोनों अवसरों पर, उनके पैरों पर ओलंपिक खेलों के उस संस्करण का टैटू था, जिस क्षण उन्होंने क्वालीफाई किया था।

"जब आप क्वालीफाई करते हैं, तो यह एक एथलीट के लिए सबसे खुशी के क्षणों में से एक है। मैं उन पलों को अपनी त्वचा पर पहनता हूं। मैं तब खुश होता हूं जब मैं क्वालिफाई करता हूं। यह उन सबसे अच्छी चीजों में से एक है जिसे कोई भी अनुभव कर सकता है। जब आप अर्हता प्राप्त करते हैं, तो आप तीन या चार दिनों तक सोते नहीं हैं," धावक बताते हैं, जिन्होंने 2:10:31 के नए पैरागियन रिकॉर्ड के साथ दक्षिण अमेरिकी चैम्पियनशिप जीतने के बाद मैराथन के लिए पिछले सितंबर में क्वालीफाई किया था।

View this post on Instagram

Paipa Querido 🌎

A post shared by Derlys Ayala OLY (@derlysrun) on

हालाँकि, जब COVID-19 महामारी के कारण टोक्यो 2020 को 2021 तक स्थगित कर दिया गया, तो Ayala ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट्स पर यह फोटो पोस्ट करते हुए शब्दों के साथ लिखा - "क्या कोई मुझे 2021 लिखने में मदद कर सकता है?"

वह उम्मीद नहीं कर सकते थे कि आगे क्या होगा। उस तस्वीर ने दुनिया भर से सभी का ध्यान आकर्षित किया।

एथलीट ने कहा, "यहां तक कि उत्तर कोरिया के एक वेब पेज ने मुझे तस्वीर प्रकाशित करने के लिए अनुमति भी मांगी थी।"

"मैंने कभी नहीं सोचा था कि यह तस्वीर इतनी हलचल पैदा कर सकती है। बहुत से लोगों ने मुझसे पूछा है कि टैटू असली है या नहीं, और वे चाहते हैं कि मैं उन्हें यह दिखाऊं क्योंकि अन्यथा वे इस पर विश्वास नहीं करते हैं।

"हर देश में, हर वेबसाइट पर, भले ही वे मज़ाक कर रहे हों, लेकिन इसका गहरा असर पड़ा है। हालांकि, हर किसी को मज़ाक समज में भी नहीं आता। मैंने इसे मज़ाक के लिए पोस्ट किया था, लेकिन बाद में, मुझे लोगों को इतना परेशान न होने के लिए कहना पड़ा, क्योंकि बहुत से लोगों ने मुझे यह पूछने के लिए लिखा था कि मैं एक महामारी के दौरान टैटू को हटाने के बारे में कैसे सोच सकता हूं। यह एक मजाक था, लेकिन वही बात है, सब नहीं समाज पाए।

उन्होंने कहा कि इस टैटू को उनके शरीर पर बनवाने के लिए बहुत से लोगों ने उनकी आलोचना की। लेकिन वह कहते हैं कि उन्हें किसी बात का पछतावा नहीं है।

हालांकि, पिछले साल क्वालीफाई करने के बाद, किसी ने भी नहीं सोचा होगा कि अगले महीनों में क्या होगा।

"जब मैंने पिछले साल टैटू करवाया, तो किसी ने कभी नहीं सोचा होगा कि हम एक महामारी को झेलेंगे और ओलंपिक स्थगित हो जाएंगे । मुझे लगता था की यह कुछ ऐसा है जो केवल एक युद्ध के दौरान हो सकता है। लेकिन अंत में हम एक प्रकार के युद्ध में ही हैं। एक बहुत ही घातक युद्ध में, जिसे आसानी से हराया नहीं जा सकता।

लेकिन सवाल यह है कि क्या Ayala आखिर अपना टैटू बदलने जा रहे हैं?

"बिल्कुल नहीं, लेकिन मैं खेलों के बाद एक और टैटू जरूर बनवाऊँगा। लेकिन निश्चित रूप से, अब से मैं पहले इंतजार करूंगा," उन्होंने हंसते हुए कहा।

"मुझे लगता है कि मैं एकमात्र एथलीट हो सकता हूं जिसके पास पहले से ही टैटू है क्योंकि आम तौर पर लोग खेलों के बाद बनवाते हैं। लेकिन मैं इतनी जल्दी योग्य हो गया था, मैं क्या करता।"

"कसम से, बहुत सारे टैटू कलाकारों ने मुझे इसे बदलने की पेशकश करते हुए लिखा था। मुझे ऐसा होने की उम्मीद नहीं थी, लेकिन मैं वास्तव में इसकी सराहना करता हूं। उन्होंने मुझे कुछ सुझाव भी भेजे और मुझे लगता है कि मुझे उन में से कुछ पसंद आए। हाँ, ऐसा हो सकता हैं की मैं टैटू में थोड़ा बदलाव लाऊ। लेकिन निश्चित रूप से, मैं 1 के लिए 0 नहीं बदलूंगा।"

आखिरकार, टोक्यो 2020 ओलंपिक खेलों का आधिकारिक नाम अभी भी वही होगा। तो इस मामले में उनका टैटू बिलकुल ठीक है, भले ही उसे खेल के सबसे बड़े मंच पर दिखाने के लिए एक और साल इंतजार करना पड़े।