पूल से सर्फिंग बोर्ड तक – Timanina की यह कहानी

स्वर्ण पदक विजेता, रूस ने लंदन 2012 ओलंपिक खेलों के 14वें दिन महिला टीमें सिंक्रोनाइज्ड स्विमिंग फ्री रूटीन फाइनल के लिए पदक समारोह के दौरान पोडियम पर पोज़ दिया। (Al Bello/ गेटी इमेज द्वारा फोटो)
स्वर्ण पदक विजेता, रूस ने लंदन 2012 ओलंपिक खेलों के 14वें दिन महिला टीमें सिंक्रोनाइज्ड स्विमिंग फ्री रूटीन फाइनल के लिए पदक समारोह के दौरान पोडियम पर पोज़ दिया। (Al Bello/ गेटी इमेज द्वारा फोटो)

तैराकी में एक महान करियर होने के बाद, रूसी एथलीट, Angelika Timanina सर्फिंग में चली गई - जिसमें वह ओलंपिक खेलों टोक्यो 2020 के लिए क्वालीफाई करने की उम्मीद करती है।

ओलंपिक खेलों में भाग लेना पहले से ही काफी बड़ी उपलब्धि है। लेकिन अलग-अलग खेलों में दो ओलंपिक खेलों में भाग लेना एक अलग बात है - और यही Angelika Timanina करने की कोशिश कर रही है।

पूर्व रूसी संघ की कलात्मक तैराक, जिन्होंने महिला टीम के सदस्य के रूप में लंदन 2012 में स्वर्ण पदक जीता था, अब सर्फिंग में टोक्यो 2020 के लिए क्वालीफाई करने की कोशिश कर रही हैं।

एक कलात्मक तैराक के रूप में, Timanina ने सभी संभावित खिताब जीते - यूरोपीय चैंपियनशिप, विश्व चैंपियनशिप और एक ओलंपिक स्वर्ण पदक। हालांकि, ओलंपिक स्वर्ण जीतना उनकी सर्वश्रेष्ठ उपलब्धि थी।

"यह सबसे अच्छा क्षण था ... बीस साल के अधिक समय तक मैंने अपने पूरे जीवन में इस क्षण का इंतजार किया। भावनाएं बह रही हैं, क्योंकि, बेशक, यह आश्चर्यजनक और कठिन था। यह आसान नहीं था," उन्होंने ओलंपिक चैनल को समझाया।

“मुझे वह पल याद है जब हम एक पेडस्टल पर खड़े थे और हम पूल की तरफ देख रहे थे और हमें सीटी बजने और पानी में कूदने का इंतज़ार करना था।

"यह सबसे उज्ज्वल क्षण है जब आप महसूस करते हैं कि चीजें अब होने वाली हैं। आपने इस क्षण का पूरे जीवन इंतजार किया है। यह एक अद्भुत एहसास है!”

एंजेलिका तिमानीना: ''पानी मेरा प्राकृतिक तत्व है"
03:00

पानी पर नाचना

यह एक प्रदर्शन था जो Timanina के अनुसार टीम केमिस्ट्री, अथक परिश्रम और कोच के बिना संभव नहीं था।

“Tatyana Nikolayevna Pokrovskaya. बीस वर्षों से अधिक समय से हम सभी उनकी कोचिंग में नहीं हारे हैं। यह उनके बारे में सब कुछ कहता है। वह बहुत मजबूत कोच और एक अच्छी महिला है। वह उच्चतम स्तर की एक्सपर्ट भी हैं। लेकिन कोई रहस्य नहीं है - हमने बहुत मेहनत की - दिन में 10-12 घंटे - और इस तरह की समानता, ऐसी पूर्णता प्राप्त करना चाहते हैं तो कोई और रास्ता नहीं है।"

"हम सभी समझते थे कि हम इस बड़ी चीज़ के कुछ हिस्से हैं और हमें एक-दूसरे का समर्थन करना है। हम हमेशा साथ रहे, हमने हमेशा एक-दूसरे की मदद करने की कोशिश की।"

"पूल के बाहर भी, हमने एक साथ बहुत समय बिताया। हम एक साथ रहते थे। हमें बिना कुछ कहे एक-दूसरे को समझना था।

लेकिन 26 साल की उम्र में, रियो में ओलंपिक खेलों में भाग लेने में विफल रहने के बाद, Timanina ने संन्यास लेने का फैसला किया।

Timanina ने अपने दोनों हाथों में गंभीर चोटों के साथ कई साल प्रशिक्षण लिया, हर दिन अपने हाथों को पट्टियों में लपेटकर प्रशिक्षण लिया।

"वह क्षण आया जहां मुझे एहसास हुआ कि मुझे यह निर्णय लेना है क्योंकि स्वास्थ्य सबसे जरूरी था," उन्होंने समझाया।

“मैं पहले से ही एक ओलंपिक चैंपियन थी, मेरे पूरे जीवन का सपना पहले ही सच हो गया था। बस एक तरफ कदम रखना, मेरी सेहत का ख्याल रखना और आगे बढ़ना जरूरी था।

"यह मुश्किल था लेकिन मुझे एक निर्णय लेना था। और मुझे लगता है कि यह सही है।"

लंदन 2012 के ओलिंपिक खेलों के 13वें दिन रूस ने महिलाओं की टीमों में सिंक्रोनाइज्ड स्विमिंग टेक्निकल रूटीन में मुकाबला किया। (Al Bello/ गेटी इमेज द्वारा फोटो)
लंदन 2012 के ओलिंपिक खेलों के 13वें दिन रूस ने महिलाओं की टीमों में सिंक्रोनाइज्ड स्विमिंग टेक्निकल रूटीन में मुकाबला किया। (Al Bello/ गेटी इमेज द्वारा फोटो)
2012 Getty Images

सर्फर के रूप में एक नया जीवन

हालाँकि, जब आप 15 साल की उम्र से एक प्रतिस्पर्धी खेल का हिस्सा रहे हो, तो उसे 26 की उम्र में छोड़ना आसान नहीं होता । खैर, Yekaterinburg की मूल निवासी ने नया खेल अपनाया और उसमें चैंपियन भी बनी।

2017 में अपना पहला सर्फ़बोर्ड मिलने के बाद, Timanina ने एक नए उद्देश्य से अपनी यात्रा शुरू की - टोक्यो 2020 के लिए क्वालीफाई करना। हालांकि, दांव बहुत ऊंचे हैं। खेल में रूसी संघ वास्तव में एक पावरहाउस नहीं है, और Timanina को सर्फिंग शुरू करे केवल तीन साल ही हुए है।

"इस समय, रूस का क्वालीफाई करना मुश्किल लग रहा है," उन्होंने कहा। "हमारे पास उन देशों की तुलना में ऐसे अवसर नहीं हैं जहां समुद्र, नदियां और लहरें हैं।"

"परिणाम के रूप में, सभी रूसी सर्फर पहले से ही परिपक्व उम्र में खेल में व्यस्त हो गए। इसलिए, अभी के लिए, हम सिर्फ इस लक्ष्य की ओर जा रहे हैं।"

View this post on Instagram

That’s the goal 🙌🏻🥇 I’ll be representing the Russian national team at the ISA World Surfing Games 🇸🇻 2020 this year 👏👏👏 ⠀ Вчера огласили результаты отбора и я буду представлять сборную России на предстоящем Чемпионате Мира по сёрфингу 🔥🏄🏼‍♂️ ⠀ Друзья, спасибо вам всем за колоссальную поддержку, которую вы мне оказали. Моменты отчаяния и желания всё бросить настигали меня очень часто, но вы не дали мне сдаться. Тренировочные сборы - это очень непростое испытание, но я твёрдо решила победить не смотря ни на что. И я победила, в первую очередь саму себя, свои сомнения и страхи. Всё реально, никогда нельзя останавливаться ни перед какими трудностями. ⠀ Я просто поверила в себя, много работала и пришла к своей цели. Слушайте свой внутренний голос и твёрдо верьте в свои мечты. Всех люблю ❤️

A post shared by Angelika Timanina (@angelikatimanina) on

लेकिन उनके पास अभी भी एक मौका हो सकता है।

Timanina ने पहला पड़ाव पार किया है - उन्हें 2020 ISA World Surfing Games में रूस का प्रतिनिधित्व करने के लिए चुना गया था - जहां ऐसी संभावना है कि वह टोक्यो ओलंपिक खेलों 2020 के लिए क्वालीफाई कर सकती है।

उन्होंने पिछले सितंबर में जापान में 2019 ISA World Surfing Games में भाग लिया, जहां उन्होंने दुनिया के कुछ सर्वश्रेष्ठ सर्फ़रों के साथ प्रतिस्पर्धा की।

एक ऐसा अनुभव जो वह जल्द ही नहीं भूल पाएगी।

"हमेशा पानी में बैठना और Steph Gilmore, Carissa Moore और अन्य लड़कियों की एक बड़ी संख्या से बात करना बहुत अच्छा होता है। वे सभी इतने सकारात्मक और अच्छे हैं," Timanina ने कहा।

"हो सकता है, कुछ रूसी सर्फर, जिनमें मैं भी शामिल हूं, टोक्यो 2020 के लिए क्वालीफाई कर सकते है।?

रूस ने जीता सिंक्रोनाइज़्ड स्विमिंग टीम गोल्ड
01:38