आईओसी अध्यक्ष Thomas Bach ने किया ओलिंपिक स्टेडियम और विलेज का दौरा 

आईओसी अध्यक्ष Thomas Bach ने 17 नवंबर 2020 को ओलिंपिक स्टेडियम का दौरा किया।
आईओसी अध्यक्ष Thomas Bach ने 17 नवंबर 2020 को ओलिंपिक स्टेडियम का दौरा किया।

उन्होंने कहा है कि खिलाड़ियों को टोक्यो बहुत पसंद आएगा और ओलिंपिक खेलों के आयोजन के लिए उन्होंने बहुत विश्वास दिखाया। 

अंतर्राष्ट्रीय ओलिंपिक समिति के अध्यक्ष Thomas Bach ने ओलिंपिक स्टेडियम और ओलंपिक और पैरालंपिक विलेज का अपना पहला दौरा करने के बाद उन्होंने खिलाड़ियों को यह संदेश दिया:

आपको टोक्यो 2020 से प्यार हो जायेगा।

Bach ने मंगलवार (नवंबर 17) को पूरे शहर का दौरा किया और ओलिंपिक स्टेडियम में अपने समय के दौरान कहा, "यह एक बहुत भावुक क्षण है।"

"कल्पना करिये की आज से नौ महीने बाद आप यहाँ आएंगे और इस दरवाज़ें से प्रवेश करेंगे जो इसे सही मायनों में ओलिंपिक स्टेडियम बनाएगा। इस समय यह स्टेडियम खाली है और तब भी इसका वातावरण बेहतरीन है।"

टोक्यो बे में स्थित ओलिंपिक विलेज के बारे में Bach ने कहा, "हम सबको यह लगता है कि यह शानदार है और अगर आप अंदर देखें तो बहुत जगह है और रेनबो ब्रिज भी दिखता है।"

"खिलाड़ियों को टोक्यो से प्रेम हो जायेगा।"

Bach के जापान दौरे का यह तीसरा दिन है और उन्हें लगा की ओलिंपिक विलेज में सामाजिक दूरी बनाये रखने के लिए दी गयी जगह पर्याप्त लगी और उन्होंने जापानी खिलाड़ी Ueda Ai, Chida Kenta और Satomi Sarina से भी उनकी प्रतिक्रिया मांगी।

IOC President Thomas Bach stands in the Olympic Stadium on 17 November 2020.
IOC President Thomas Bach stands in the Olympic Stadium on 17 November 2020.
Tokyo 2020 / Uta MUKUO

अध्यक्ष Bach को ओलिंपिक स्टेडियम का दौरा करने में अधिक ख़ुशी महसूस हुई और यह स्टेडियम उसी स्थान पर है जहाँ 1964 खेलों के लिए परिसर का निर्माण किया गया था।

इस स्टेडियम के वास्तुकार Kuma Kengo ओलिंपिक हाउस की डिज़ाइन के लिए आयोजित प्रतियोगिता की जूरी के सदस्य थे।

Bach ने प्रतियोगिता स्थल के बारे में कहा, "यह बिलकुल प्रामाणिक जापानी सभ्यता और वास्तुकला के अनुसार बना है।""आप रंगों और इसकी सरल लेकिन सौम्य डिज़ाइन को देखिये। मैं इस स्टेडियम के निर्माण से बहुत खुश हूँ। इसकी वास्तुकला बेहतरीन है।खेलों के लिए टीका अनिवार्य नहीं।

अध्यक्ष Bach ने कहा कि वह भी चाहते हैं कि खेलों के दौरान स्टेडियम दर्शकों से भरा रहे लेकिन यह कोरोना महामारी के खिलाफ किये जाने वाले उपायों और टीके की उपलब्धि पर निर्भर करेगा।

उन्होंने एक दिन पहले कही गयी अपनी बात को दोहराते हुए कहा की अगर टीका उपलब्ध भी हुआ तो भी यह खेलों में भाग लेने के लिए अनिवार्य नहीं होगा।

यह सारे बातें ध्यान में रखते हुए आईओसी पूरा प्रयास करेगी कि टीकाकरण से जापानी लोगों को सुरक्षित रखा जा सके।

Bach ने कहा, "टीका लगाना अनिवार्य नहीं होगा लेकिन हम खिलाड़ियों को लगाने के लिए प्रोत्साहित करेंगे क्योंकि यह न केवल उनके स्वास्थ्य के लिए अच्छा होगा बल्कि जापानी लोगों और खिलाड़ियों के साथ एकता का प्रतीक भी होगा।"

"ऐसी अनिश्चितता के वातवरण में ओलिंपिक खेल जैसे भव्य कार्यक्रम के बारे में अनिश्चित होना स्वाभाविक है। हमें यह बात समझनी और समझनी होगी कि आज से नौ महीने बाद विश्व की स्थिति अलग होगी।"

"हमने कल ही एक घोषणा सुनी कि एक नया टीका अनुमोदन के करीब है और ऐसी ख़बरें आती रहेंगी।"

"हर व्यक्ति चाहता है कि पूरा स्टेडियम दर्शकों से भरा हो लेकिन हमें यह नहीं पता कि आज से नौ महीनों में स्थिति क्या होगी।"

ओलिंपिक चैनल द्वारा।