रोड टू टोक्यो 2020: आइए डालते हैं एक नज़र पिछले हफ्ते के कुछ मुख्य बयानों पर

आयरलैंड की Katie Mullan महिला एफआईएच ओलंपिक हॉकी क्वालिफायर सेकेंड लेग में कनाडा की Sara McManus के साथ एक्शन में हैं।
आयरलैंड की Katie Mullan महिला एफआईएच ओलंपिक हॉकी क्वालिफायर सेकेंड लेग में कनाडा की Sara McManus के साथ एक्शन में हैं।

जैसा कि लाइव स्पोर्ट्स दुनियाभर में एक बार फिर से शुरू होने के लिए तैयार है, ऐसे में एथलीट्स इसके लिए खुद को तैयार करने में व्यस्त हैं। जहां कुछ देश प्रशिक्षण परिसरों को खोलने की अनुमति दे रहे हैं, वहीं अन्य देश प्रतियोगी कार्रवाई शुरू करने के लिए ग्रीन सिग्नल देते नज़र आ रहे हैं।

टोक्यो 2020 ने कई एथलीट्स से बात की जिनकी ओलंपिक और पैरालंपिक खेलों की यात्रा धीरे-धीरे गति पकड़ रही है.

Katie Mullan: "प्रदर्शन ओलंपिक खेलों में महत्वपूर्ण है"

रिपब्लिक ऑफ आयरलैंड टीम की कप्तान Katie Mullan अपने साथियों के साथ, डबलिन में 2019 महिला एफआईएच ओलंपिक हॉकी क्वालिफायर में टोक्यो 2020 के लिए क्वालीफाई करने के बाद जश्न मनाती हुई।
रिपब्लिक ऑफ आयरलैंड टीम की कप्तान Katie Mullan अपने साथियों के साथ, डबलिन में 2019 महिला एफआईएच ओलंपिक हॉकी क्वालिफायर में टोक्यो 2020 के लिए क्वालीफाई करने के बाद जश्न मनाती हुई।
©INPHO/Morgan Treacy

मुझे लगता है कि हमें टोक्यो में एक पदक पर अपना लक्ष्य निर्धारित करना होगा,

क्यूंकि अगर हम ऐसा नहीं करते तो हम मुर्ख लगेंगे

टीम की कप्तान, Katie Mullan आयरलैंड की महिला हॉकी टीम के शीर्ष पर हैं और एक ओलंपिक खेलों में एक प्रतिष्ठित ओलंपिक पदक के लिए अपनी पहली उपस्थिति बनाने का इरादा रखती हैं।

अधिक पढ़ने के लिए यहां क्लिक करे

Malia Paseka: युवा टोंगंस के लिए एक प्रेरणा

ओलंपिक क्वालीफ़ायर टूर्नामेंट में Malia Paseka ने 67 किग्रा में स्वर्ण जीता और टोक्यो में टोंगा का दूसरा क्वालीफिकेशन स्थान हासिल किया
ओलंपिक क्वालीफ़ायर टूर्नामेंट में Malia Paseka ने 67 किग्रा में स्वर्ण जीता और टोक्यो में टोंगा का दूसरा क्वालीफिकेशन स्थान हासिल किया
World Taekwondo

"मैं वास्तव में युवा टोंगन लड़कियों और साथ ही कई प्रशांत द्वीपों की महिलाओं को प्रेरित करने की उम्मीद करती हूं,

न केवल ताइक्वांडो बल्कि किसी भी खेल को लेने के लिए।

इस साल की शुरुआत में, Malia Paseka ने इतिहास रचा जब वह ओलंपिक खेलों में ताइक्वांडो के लिए क्वालीफाई करने वाली पहली टोंगन महिला बनीं। हालाँकि, उनका मिशन सिर्फ टोक्यो 2020 पर पोडियम पर खड़ा होना नहीं है, बल्कि अपने देश के युवाओं को प्रेरित करना भी है।

अधिक पढ़ने के लिए यहां क्लिक करे

Maïva Hamadouche: 'मैं ओलंपिक स्वर्ण पदक जीत पहली वर्ल्ड चैंपियन बनना चाहती हूँ'

वियतनाम की Thi Vuong (रेड) 2012 में AIBA महिला विश्व मुक्केबाजी चैंपियनशिप के दौरान महिलाओं के 57 किग्रा प्रारंभिक मैच में फ्रांस की Maiva Hamadouche (ब्लू) के खिलाफ लड़ती है। (Feng Li/ गेटी इमेज द्वारा फोटो)
वियतनाम की Thi Vuong (रेड) 2012 में AIBA महिला विश्व मुक्केबाजी चैंपियनशिप के दौरान महिलाओं के 57 किग्रा प्रारंभिक मैच में फ्रांस की Maiva Hamadouche (ब्लू) के खिलाफ लड़ती है। (Feng Li/ गेटी इमेज द्वारा फोटो)
2012 Getty Images

यह सच है कि नौ मिनट में कुछ भी हो सकता है,

लेकिन मैं यकीन के साथ कह सकती हूँ कि मुझे कोई भी लड़की हरा नहीं सकती

फ्रांसीसी मुक्केबाज़, Maïva Hamadouche पेशेवर वर्ल्ड चैम्पियनशिप बेल्ट और ओलंपिक स्वर्ण पदक जीतने वाली पहली एथलीट बनना चाहती हैं। यह कोई आसान उपलब्धि नहीं है, लेकिन फ्रांसीसी एथलीट चुनौती के लिए तैयार हैं।

अधिक पढ़ने के लिए यहां क्लिक करे

क्या टोक्यो 2020 में खत्म होगा Nicole Frank के परिवार के 80 वर्ष का इंतजार?

मुझे नहीं लगता कि, अब मैं दबाव में हूँ, लेकिन मैं अपनी दादी के नक्शेकदम पर चलते रहने के लिए प्रेरित हूँ,

साथ ही मैं उनके सपने और अपने सपने को सच कर सकती हूँ।

Angelika Rädche ने 1940 के ओलंपिक के लिए क्वालीफाई किया, लेकिन द्वितीय विश्व युद्ध के कारण खेल रद्द हो गए और उन्होंने प्रतिस्पर्धा करने का मौका खो दिया। अब, 80 साल बाद, उनकी पोती, Nicole Frank, आखिरकार अपने परिवार के सपने को सच कर सकती है और टोक्यो 2020 के लिए क्वालीफाई कर सकती हैं।

अधिक पढ़ने के लिए यहां क्लिक करे