आइए डालते हैं एक नज़र इस हफ्ते की सोशल मीडिया सुर्खियों पर

Vinesh Phogat (Photo by Boris Streubel/Getty Images for Laureus)
Vinesh Phogat (Photo by Boris Streubel/Getty Images for Laureus)

हर हफ्ते, टोक्यो 2020 आपके लिए सोशल मीडिया की दुनिया के सबसे रोमांचक खेल पोस्ट लाएगा। पता करें कि आपके पसंदीदा एथलीट अपने घरों में क्या कर रहे हैं।

(स्पॉयलर अलर्ट: यह ट्रेनिंग के बारे में नहीं है)

अब यह हुई न बात

अपने करियर में पहली बार 30 से कम की रैंकिंग वाले खिलाड़ी (दुनिया के 25वें नंबर के खिलाड़ी, Cristian Garin) को मात देने के बाद, Sumit Nagal अपने पहले एटीपी टूर क्वार्टरफाइनल में पहुंच गए हैं और वह इसे लेकर सुपर एक्साइटेड हैं।

इस अवसर के लिए शुक्रिया

विश्व प्रसिद्ध भारतीय महिला पहलवान, Geeta Phogat दो साल में पहली बार मैट पर लौट आई हैं, उन्होंने ट्रेनिंग करते हुए की अपनी कुछ तस्वीरें अपने ट्विटर हैंडल पर भी साझा कीं, और कुश्ती संघ और SAI को उन्हें वापसी करने का अवसर प्रदान करने के लिए धन्यवाद भी दिया।

Vinesh ने अपने देश को गौरवान्वित किया

न केवल वह बल्कि Geeta की छोटी बहन, Vinesh Phogat भी COVID ब्रेक के बाद पहली बार मैट पर लौटीं, और उन्होंने कीव, यूक्रेन में XXIV आउटस्टैंडिंग यूक्रेनी रेस्टलेर्स और कोच मेमोरियल टूर्नामेंट को जीतकर अपने देश को गौरवान्वित किया। 

पहले से ही ओलंपिक के लिए योग्य, Vinesh ने 53 किलोग्राम वर्ग में स्वर्ण पदक जीतने के लिए बेलारूस की विश्व नंबर सात Vanesa Kaladzinskaya को हराया। 

अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर, Vinesh ने उन्हें वापसी करके कैसा लगा और इस टूर्नामेंट को जीतने का मतलब उनके लिए क्या है इस पर अपने विचारों को साझा किया।

नज़रे अब सिर्फ पदक पर होंगी

दूसरी ओर, एक अन्य भारतीय पहलवान, Bajrang Punia ने घोषणा की कि वह ओलंपिक खत्म होने तक सोशल मीडिया छोड़ रहे हैं। उनका उद्देश्य इन सभी विकर्षणों से खुद को दूर रखना है और सिर्फ अपने सपने पर काम करने पर ध्यान केंद्रित करना है - जो कि ओलंपिक स्वर्ण पदक जीतना है। हम उन्हें शुभकामनाएं देते हैं!

समर्थन के लिए धन्यवाद, मेहनत करना जारी रखों

असम पुलिस में उप-अधीक्षक के रूप में शामिल होने के कुछ ही दिनों बाद, भारतीय धावक Hima Das ओलंपिक खेलों की तैयारी के लिए ट्रैक पर लौट आई। 

सभी के लिए उनके पास एक संदेश हैं - 'कड़ी मेहनत करते रहो और सफलता तुमे अपने आप मिलेगी।'

बांहों में जान आज भी हैं

38 वर्षीय दिग्गज भारतीय महिला मुक्केबाज़, MC Mary Kom, जो इस समय स्पेन में चल रहे बॉक्सम एलीट इंटरनेशनल टूर्नामेंट में भाग ले रही हैं, ने Giordana Sorrentino को 51 किलोग्राम वर्ग में हराकर सेमीफाइनल में प्रवेश किया और अपने लिए एक पदक सुरक्षित किया।