PV Sindhu और Kidambi Srikanth ने किया बीडब्लूएफ विश्व टूर फाइनल्स के लिए क्वालीफाई 

Kidambi Srikanth (How Foo Yeen/ गेटी इमेजेज द्वारा फोटो)
Kidambi Srikanth (How Foo Yeen/ गेटी इमेजेज द्वारा फोटो)

थाईलैंड में आयोजित होने वाली तीसरी प्रतियोगिता में Sindhu और Srikanth अच्छे प्रदर्शन की आशा करेंगे। 

बैडमिंटन सितारे PV Sindhu और Kidambi Srikanth कल से होने वाले बीडब्लूएफ विश्व टूर फाइनल्स में भाग लेंगे और भारत की ओर से सिर्फ यही दो खिलाड़ी इस प्रतियोगिता में भाग लेंगे। बीडब्लूएफ विश्व टूर फाइनल्स का आयोजन दिसंबर 2020 में तय था लेकिन कोरोना महामारी के कारण इसे विलंबित कर दिया गया था। भारत की पुरुष डबल्स जोड़ी Satwiksairaj Rankireddy और Chirag Shetty के हाथ निराशा लगी और थाईलैंड ओपन में अच्छे प्रदर्शन के बाद भी वह फाइनल्स में अपनी जगह नहीं बना पाए।

Sindhu और Srikanth को मिला प्रतियोगिता में स्थान

बीडब्लूएफ विश्व टूर फाइनल्स में हर वर्ग के आठ सर्वोच्च खिलाड़ियों और जोड़ियों को जगह मिली जिनमे PV Sindhu और Kidambi Srikanth भी शामिल हैं। अगर पुरुषों के वर्ग की बात करें तो Kidambi Srikanth की विश्व रैंकिंग 14 है लेकिन टूर पर उनकी रैंक सात होने के कारण उन्हें इस प्रतियोगिता में जगह मिल गयी। जहाँ एक तरफ योनेक्स थाईलैंड ओपन में Srikanth चोटिल होने के कारण दुसरे राउंड में बाहर हो गए थे, टोयोटा थाईलैंड ओपन में उन्हें कोरोना महामारी संक्रमण से जुड़े नियम के कारण अपना नाम वापस लेना पड़ा।

भारत के ही B Sai Praneeth की कोरोना संक्रमण रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद Srikanth को 14 दिन अकेले रहने के लिए कहा गया था लेकिन शुक्रवार को उनका टेस्ट परिणाम नेगेटिव आया और इसी कारण अब उनका प्रतियोगिता में भाग लेना तय है। चोट और ख़राब फॉर्म से जूझ रहे Kidambi Srikanth के लिए यह तीसरी प्रतियोगिता बहुत अहम् रहेगी।

वहीँ दूसरी ओर अगर PV Sindhu की बात करें तो उनका इस प्रतियोगिता के लिए क्वालीफाई करना मुश्किल हो सकता था क्योंकि उनकी टूर रैंक दस है लेकिन बीडब्लूऍफ़ के नियम के कारण एक देश से अधिकतम दो ही खिलाड़ी भाग ले सकते हैं और पहले आठ खिलाड़ियों में तीन थाईलैंड के थे और एक थीं Nozomi Okuhara जिन्होंने भाग नहीं लिया। इस कारण से विश्व चैंपियन Sindhu को इस प्रतियोगिता में भाग लेने का मौका मिलेगा और वह अच्छे प्रदर्शन की आशा करेंगी।

Marin और Axelsen सबसे प्रबल दावेदार

बीडब्लूएफ विश्व टूर फाइनल्स में चीन और जापान के खिलाड़ी शामिल नहीं हैं लेकिन फिर भी पिछली दो प्रतियोगिताओं के मुकाबलों को देखें तो यह बात कही जा सकती है कि खेल का स्तर उच्च कोटि का रहा है। कोरोना महामारी के साय में आयोजित हुई दो प्रतियोगिताओं में स्पेन की Carolina Marin और डेनमार्क के Viktor Axelsen महिलाओं और पुरुषों के सिंगल्स वर्ग के ख़िताब जीतने के सबसे प्रबल दावेदार रहेंगे।

2016 रियो ओलिंपिक खेलों में स्वर्ण जीतने वाली Marin ने शानदार शुरुआत करते हुए दोनों थाईलैंड ओपन अपने नाम किये। Marin के लिए 2020 बहुत कठिन साल रहा और यह दो प्रतियोगिताएं जीतने के बाद उनका लक्ष्य दूसरा ओलिंपिक स्वर्ण जीतना होगा। वहीँ दूसरी ओर जापानी और चीनी खिलाड़ियों की अनुपस्तिथि में पुरुष वर्ग में Viktor Axelsen ने शानदार प्रदर्शन दिखाते हुए दोनों प्रतियोगिताएं जीती।