शॉटगन विश्व कप: स्कीट प्रतियोगिता में एक पदक के बाद भारतीय ट्रैप निशानेबाज़ों पर निगाहें 

SHOTGUN WC PICTURES

कैरो में चल रहे विश्व कप में भारत ने अब तक एक पदक जीता है और आज से ट्रैप प्रतियोगिता की होगी शुरुआत। 

साल के पहले निशानेबाज़ी विश्व कप में भारतीय खिलाड़ियों ने स्कीट प्रतियोगिता में सिर्फ एक पदक अपने नाम किया और ट्रैप प्रतिस्पर्धा में बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद करेंगे। मिस्र की राजधानी कैरो में चल रहे शॉटगन विश्व कप की स्कीट प्रतियोगिता में एक पदक के साथ भारत तालिका में सातवें स्थान पर है। शनिवार को भारत की पुरुष टीम ने स्कीट प्रतियोगिता में कांस्य पदक जीता लेकिन महिलाऐं चूक गयी।

स्कीट प्रतियोगिता में एक पदक

टोक्यो 2020 ओलिंपिक खेलों की तैयारी के दृष्टिकोण से यह प्रतियोगिता निशानेबाज़ों के लिए बहुत ज़रूरी थी और भारत के Angad Vir Singh Bajwa अथवा Mairaj Ahmad Khan पर सबकी निगाहें थी। यह दोनों निशानेबाज़ टोक्यो 2020 ओलिंपिक खेलों में अपनी जगह बना चुके हैं लेकिन कैरो विश्व कप में उनका प्रदर्शन व्यक्तिगत प्रतियोगिता में अच्छा नहीं रहा और भारत का एक भी निशानेबाज़ स्कीट प्रतिस्पर्धा के फाइनल में नहीं पहुँच पाया। महिलाओं की व्यक्तिगत प्रतिस्पर्धा में भारत का प्रदर्शन साधारण रहा और एक भी निशानेबाज़ फाइनल में नहीं पहुंची।

टीम मुकाबले में भारत की पुरुष तिकड़ी Mairaj Ahmed Khan, Angad Vir Singh Bajwa और Gurjoat Khangura ने क्वालिफिकेशन राउंड में बेहतर प्रदर्शन दिखाया और कांस्य पदक मैच में अपनी जगह बना ली। पदक के लिए उनका सामना कज़ाख़िस्तान की तिकड़ी David Pochivalov, Eduard Yechshenko और Alexandr Mukhamediyev से हुआ और भारत ने मुकाबले की शुरुआत से ही दबाव बना कर रखा। भारत ने कज़ाख़िस्तान को 6-2 से हरा कर कांस्य पदक अपने नाम कर लिया।

महिलाओं की तिकड़ी Ganemat Sekhon, Parinaaz Dhaliwal और Karttiki Singh Shaktawat कांस्य पदक मुकाबले में पहुंची लेकिन उन्हें कजाखस्तान के हाथों हार का सामना करना पड़ा। एक करीबी मुकाबले में भारत की निशानेबाज़ों ने कज़ाख़िस्तान को कड़ी टक्कर दी लेकिन अंत में मैच 4-6 से हार गए। मिश्रित टीम प्रतियोगिता में भारतीय निशानेबाज़ों का प्रदर्शन निराशाजनक रहा और वह फाइनल में जगह नहीं बना पाए।

ट्रैप निशानेबाज़ों पर निगाहें

स्कीट प्रतिस्पर्धा के बाद अब सबकी निगाहें ट्रैप निशानेबाज़ों पर होंगी और भारत अपने दुसरे पदक की आशा करेगा। पुरुषों की ट्रैप प्रतियोगिता में Prithviraj Tondaiman, Lakshay Sheoran और Kynan Chenai भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे। महिलाओं की बात करें तो Kirti Gupta, Manisha Keer और Rajeshwari Kumari व्यक्तिगत और टीम प्रतियोगिताओं में अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद करेंगे।