Saúl Craviotto - हर मायने में 'हीरो'

स्पेन के Saul Craviotto ने रियो 2016 ओलंपिक खेलों में पुरुषों की कयाक सिंगल 200 मीटर फ़ाइनल में कांस्य पदक जीता। (Ryan Pierse/ गेटी इमेजेज द्वारा फोटो)
स्पेन के Saul Craviotto ने रियो 2016 ओलंपिक खेलों में पुरुषों की कयाक सिंगल 200 मीटर फ़ाइनल में कांस्य पदक जीता। (Ryan Pierse/ गेटी इमेजेज द्वारा फोटो)

चार मौकों पर ओलंपिक पदक जीतने के बावजूद, Saúl Craviotto, Asturias (स्पेन) में एक पुलिसकर्मी के रूप में काम करना जारी रखते है। वहां, वह घातक COVID-19 के खिलाफ फ्रंटलाइन पर लड़ाई लड़ रहे है।

एक शानदार पथ

स्पेन के डोंगी यात्री, Saúl Craviotto अपने देश में एक बहुत लोकप्रिय एथलिट हैं।

वह तीन ओलंपिक खेलों का हिस्सा रहे हैं और उन्होंने स्पेन के लिए चार पदक जीते हैं - वह David Cal के बाद ओलंपिक खेलों में दूसरे सबसे सफल स्पेनिश एथलीट हैं, जिनके नाम पांच ओलंपिक पदक हैं। Saúl के अलावा, अन्य स्पेनिश एथलीट जिन्होंने चार ओलंपिक पदक जीते हैं, वे हैं- Joan Llaneras (साइकिलिंग), Mireia Belmonte (तैराकी), Andrea Fuentes (कलात्मक तैराकी) और Arantxa Sánchez Vicario (टेनिस) ।

Craviotto' की शानदार ओलंपिक यात्रा बीजिंग 2008 में शुरू हुई जब उन्होंने K2 500 मीटर में स्वर्ण पदक जीता। चार साल बाद लंदन 2012 में, उन्होंने K1 200 मीटर में रजत पदक जीता। उनकी सबसे बड़ी सफलता रियो 2016 में आई, जहाँ उन्होंने K2 200 मीटर में स्वर्ण और K1 200 मीटर में कांस्य जीता। इसके अलावा, उन्हें 10 मौकों पर विश्व चैंपियन का ताज पहनाया गया है। इसमें कोई शक नहीं है कि वह स्पेन के सबसे प्रसिद्ध खिलाड़ियों में से एक है।

Craviotto अगले साल टोक्यो 2020 खेलों के लिए पहले ही क्वालीफाई कर चुके है। अब चूंकि स्पेन में कारावास के उपायों में कुछ ढील दी जा रही है, वह पानी में वापस आ गए - ओलंपिक की तैयारी करने के लिए।

टोक्यो 2020: एक विशेष समर्पण

टोक्यो 2020 ओलंपिक खेल Craviotto के लिए काफी मायने रखते है।

जैसा कि उन्होंने RTVE को बताया, वह पहले से ही जानता है कि वह अपने ओलंपिक परिणामों को किसको समर्पित करेगा - "इसमें कोई संदेह नहीं है कि टोक्यो में मैं जो भी जीतता हूं या हासिल करता हूं वह उन लोगों के लिए समर्पित होगा, जिन्होंने संकट के इस समय में अपने प्रियजनों या रिश्तेदारों को खो दिया है।"

"हम (एथलिट) एक तमाशा से कम नहीं है। हम लोगों को खुश करते है। मैं यह बात जानता हूं की अगले साल टोक्यो में होने वाले ओलंपिक खेलों में मैं और मेरे देश के और एथलीट्स अपना सर्वश्रेष्ठ देना चाहेंगे ताकि हम स्पेन के लिए अधिक से अधिक मेडल्स ला सके।"

"अगर हम यह करके स्पेन के लोगों को खुश कर सकते है, तो इससे अच्छी कोई बात नहीं होगी। स्पेन के निवासी खुश होने का हक्क रखते है," उन्होंने एक इंटरव्यू में कहा।"

एक अलग युद्ध के मैदान पर

वह विशेष रूप से COVID-19 के कारण स्पेन की वर्तमान स्थिति से अवगत है। एक पेशेवर एथलीट होने के अलावा, देश के उत्तर-पश्चिम में एक स्वायत्त समुदाय, Asturias में Craviotto राष्ट्रीय पुलिस बल का हिस्सा है। जब आपातकाल की स्थिति शुरू हुई, तो वह अपनी नौकरी पर लौट आए ताकि नागरिकों की सुरक्षा सुनिश्चित हो सके जब खेल प्राथमिकता नहीं थी।

उनके फैसले की मीडिया और स्पेनिश जनता ने प्रशंसा की, लेकिन Craviotto को लगता है कि वह प्रशंसा के लायक नहीं थे।

"मैं नहीं चाहता की वो सब मुझे हीरो बुलाए क्यूंकि मैं अपने काम पर वापिस आया हूं, यह मेरा काम है, मुझे यह करना है। मैं वो कर रहा हूँ जो मुझे करना चाहिए," उन्होंने RTVE को बताया।

केवल पुलिस की नौकरी पर वापिस आना एकलौता कारण नहीं है जो उन्हें हीरो का दर्जा देता है। वीडियो कॉल्स के ज़रिए भी स्पेन के एथलिट ने नर्सिंग होम्स में काम कर रहे मेडिकल स्टाफ का समर्थन करके यह दिखाया की उनका दिल सही मायने में कितना बड़ा है।

"जो भी आप सब कर रहे है उसके लिए मैं आपका धन्यवाद देना चाहता हूँ। आप सब बहुत अच्छा काम कर रहे है और सब इसकी सहराना करते है," उन्होंने उनके बारे में कहा।

यदि यह पर्याप्त नहीं था, तो Craviotto ने कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई के लिए धन जुटाने के अभियानों में भाग लिया है, जिसमें Rafa Nadal, Pau Gasol और स्पेनिश रेड क्रॉस, #NuestraMejororictoria द्वारा पदोन्नत किए गए है ।