कैसे Ritu Phogat के 'हानिकारक बापू' Mahavir लॉकडाउन में बने भावुक

Ritu Phogat (गेटी इमेज के जरिए MONEY SHARMA/AFP द्वारा फोटो)
Ritu Phogat (गेटी इमेज के जरिए MONEY SHARMA/AFP द्वारा फोटो)

बॉलीवुड अभिनेता, Aamir Khan की 'दंगल' फिल्म में यादगार अदाकारी आज भी खेल और सिनेमा प्रशंसकों के दिमाग में ताज़ा है, और पूरा देश Mahavir फोगट को 'हानिकारक बापू' के नाम से जानता है। लेकिन कोरोना महामारी के चलते लोगों के नए रूप देखने को मिले हैं और कुछ ऐसा ही हुआ उनकी बेटी Ritu Phogat के साथ।

परिवार से दूर, Ritu का सिंगापुर लॉकडाउन

एक तरफ जहाँ पूरा भारत लॉकडाउन में घर पे था, पहलवान और MMA में लड़ने वाली Ritu Phogat सिंगापुर में ही फसी रह गयी।

इंडियन एक्सप्रेस से बात करते हुए, Ritu ने बताया की कैसे पिछले 5 महीने उनके जीवन के सबसे कठिन महीनों में से थे और परिवार के बिना उनका समय कैसे बीता।

वन चैंपियनशिप के साथ करार करने के बाद, Ritu ने अपना काफी समय देश के बाहर ही बिताया है पर कभी भी घर से वह इतने लम्बे समय तक दूर नहीं रहीं थी। कोरोना महामारी ने सबका जीवन बदल दिया है और Phogat ने बताया की उनके पिता Mahavir के बर्ताव में भी बदलाव आया।

जब 'हानिकारक बापू' का दिल पिघला

कड़ी मेहनत, अनुशासन और सख्ती पर ज़ोर देने वाले Mahavir को लॉकडाउन ने बदल दिया और वह अपनी बेटी Ritu को ले कर काफ़ी चिंतित भी रहते थे।   

'आपने उनका किरदार फिल्म में देखा होगा, वह बहुत सख्त हैं पर उनका एक भावुक पहलु भी है जो मैंने इस महामारी के समय देखा। पहले वह मुझे हफ्ते में एक या दो बार फ़ोन करते थे पर धीरे धीरे वह रोज़ करने लगे। कैसी है तू? मन लग रहा है न? यह सब पूछते थे,' Ritu Phogat ने इंडियन एक्सप्रेस को बताया। 

'माँ ने मुझे बताया की उनको चिंता रहती थी की मैं दुसरे देश में कैसे रह पा रही थी। फ़ोन पर मैंने उन्हें कभी यह महसूस नहीं होने दिया की मुझे घर की बहुत याद आ रही है और हमेशा बताया की सब ठीक है,' Ritu ने अपने लॉकडाउन अनुभव के बारे में बताते हुए कहा।

कैसे बीता Ritu का लॉकडाउन?

अपने पिता को Ritu Phogat ने फ़ोन पर ज़रूर कहा की वह ठीक थीं पर वास्तविक्ता कुछ और ही थी।

'यह घर मुझे खाने को आता था और क्योंकि मैं घर से इतने समय तक दूर नहीं रही हूँ और वह भी एक दुसरे देश में, मेरे लिए यह समय बहुत मुश्किल था,' Ritu ने इंडियन एक्सप्रेस से की गयी बातचीत में कहा।

उन्होंने यह भी बताया की कैसे घर के खाने को अपनी रसोई में बना कर अपना समय बिताया।

लक्ष्य - विश्व प्रतियोगिता

लॉकडाउन और कोरोना महामारी के पहले Ritu ने वन चैंपियनशिप में काफी शानदार प्रदर्शन करते हुए अपना नाम MMA की दुनिया में कर लिया था। जिम और रिंग बंद होने के कारण उन्हें अपना अभ्यास घर पर ही करना पड़ा, जो की आसान नहीं था।

'जो भी ट्रेनिंग ऑनलाइन मिल रही थी, उससे मेरी मदद तो रही थी पर सही गलत का पता नहीं चल रहा था। इसलिए मैंने अपने लिए एक अनुसूची बनायी और उसके हिसाब से अभ्यास करते हुए, अपने वीडियो बना कर कोच को भेज देती थी। पर यह सब मेरे लिए बेहद कठिन रहा,' Ritu ने कहा।

Ritu अब लॉकडाउन खुलने का इंतेज़ार कर रही हैं और उनकी निगाह अपने लक्ष्य पर टिकी हुई है। पिता Mahavir की चिंताएं भी अब काम होगई हैं और धीरे-धीरे वह अपने 'हानिकारक' रूप में वापस आ रहे हैं।