दर्शक, खिलाड़ी और खेल कर्मचारी: सफल और सुरक्षित टोक्यो 2020 ओलिंपिक और पैरालिम्पिक खेलों की योजना 

कल हुई बैठक में अधिकारीयों
कल हुई बैठक में अधिकारीयों

प्रतियोगिता स्थलों पर दर्शक संख्या की सीमा और अंतर्राष्ट्रीय दर्शकों के लिए स्वास्थ्य निर्देशों के बारे में निर्णय 2021 वसंत के दौरान लिया जायेगा।

कल हुई बैठक में अधिकारीयों ने टोक्यो 2020 ओलिंपिक और पैरालिम्पिक खेलों में दर्शकों, खिलाड़ियों, स्वयंसेवकों और कर्मचारियों की सुरक्षा के लिए और कोरोना महामारी के खिलाफ करे जाने वाले उपायों और योजना का एक अंतरिम सारांश प्रस्तुत किया।

जापानी सरकार का प्रतिनिधित्व कर रहे उप प्रमुख कैबिनेट सचिव SUGITA Kazuhiro की अध्यक्ष्ता में आयोजित इस बैठक में जापानी सरकार, टोक्यो मेट्रोपोलिटन सरकार और टोक्यो 2020 के अन्य अधिकारी भी उपस्थित थे और सबने कोरोना महामारी के खिलाफ लिए जाने वाले उपायों की समीक्षा करी।.

प्रगति समीक्षा

मीटिंग के बाद, सीइओ MUTO Toshiro ने कहा, "कोरोना महामारी के ख़िलाफ़ लिए जाने वाले उपाय अगले साल होने वाले ओलिंपिक खेलों के आयोजन में सबसे बड़ी चुनौती है।

खेलों को विलंबित करने के बाद टोक्यो 2020 ने इस चुनौतीपूर्ण परिस्थिति से लड़ने में तत्परता दिखाई।

कोरोना महामारी से उत्पन्न हुई स्थिति शायद मानवजाति ने कभी नहीं देखी है और इसका असर अभी भी विश्व पर दिखाई दे रहा है।

"आयोजन समिति की कार्य करने की सीमा को ध्यान में रखते हुए हम इस निष्कर्ष पर पहुंचे कि जापान सरकार, टोक्यो मेट्रोपोलिटन सरकार और आयोजन समिति के अधिकारीयों को मिला कर एक कार्य दल बनाया जाये तो बहुत बेहतर होगा। यह प्रस्ताव हमने सारे अधिकारीयों के सामने भी रखा।

"कोरोना महामारी से लड़ाई राष्ट्रीय सरकार के कार्य क्षेत्र में आता है और इस बात को ध्यान में रखते हुए यह निर्णय लिया गया है कि इस कार्य दल का नेतृत्व जापानी सरकार के अधिकारी करेंगे।

उन्होंने कहा, "हमने खिलाड़ियों के दिनचर्या और खेलों के दौरान उनके आवागमन अथवा जापान में आगमन को ध्यान में रखते हुए एक ढांचा तैयार कर लिया है। इस ढांचे में दर्शकों और अन्य लोगों के लिए भी उपाय सम्मिलित हैं।है।

कोरोना महामारी के खिलाफ लिए जाने वाले उपायों की अनंतिम योजना में निम्नलिखित शामिल हैं:

*खिलाड़ी *

संक्रमण को रोकने के लिए कई उपाय किये जाएंगे और यह खिलाड़ियों की जापान में प्रवेश से लेकर उनके वापस लौटने तक कारवाई में रहेंगे। यह उपाय और नियम खिलाड़ियों के मेज़बान शहरों के दौरे और खेलों के दौरान भी लागू किये जायेंगे।

खिलाड़ियों से संपर्क न्यूनतम रखा जायेगा और टोक्यो 2020 न केवल क्वारंटाइन उपाय करेगी बल्कि जो भी व्यक्ति खिलाड़ियों को मिला है उसका टेस्ट भी करवाएगी।

'खिलाड़ियों का ओलिंपिक और पैरालिम्पिक तैयारी ट्रैक' के साथ टोक्यो 2020 खेलों के लिए एक खास योजना बनायी जाएगी। इस योजना के अंतर्गत विदेश से आने वाले खिलाड़ियों और कर्मचारियों को जापान में प्रवेश संपर्क नियंत्रण से जुड़े सारे उपायों और नियमों का पालन करने के बाद ही मिलेगा। इन नियमों का पालन करने के बाद ही खिलाड़ियों और कर्मचारियों को 14-दिन के सेल्फ-आइसोलेशन के दौरान अभ्यास और प्रतियोगिता में भाग लेने की अनुमति दी जाएगी।

जापान सरकार द्वारा खिलाड़ियों और कर्मचारियों के लिए बनाये गए नियमों के ठोस पालन के लिए टोक्यो 2020 जापान से आगमन और प्रस्थान के समय टेस्ट करेगी और इसी के साथ स्वास्थ्य सम्बंधित सारी जांच भी करि जाएगी। इसके अलावा खिलाड़ियों के जापान में प्रवेश के बाद की जांच और प्रतियोगिता से पहले भी टेस्ट किये जायेंगे।

टेस्टिंग के नमूनों की संग्रह और विश्लेषण के लिए एक केंद्र ओलिंपिक और पैरलिम्पिक विलेज में स्थापित किया जायेगा।

अगर किसी खिलाड़ी या कर्मचारी कोरोना महामारी से संक्रमित होता है तो शीघ्र कारवाई करने कि ज़िम्मेदारी टोक्यो 2020 आयोजन समिति बीमारी संक्रमण नियंत्रण केंद्र (प्रयोगत्मक नाम) के कर्मचारियों की होगी और वह ज़रूरी अधिकारीयों अथवा संस्थाओं के साथ मेडिकल और स्वास्थ्य सम्बंधित प्रतिक्रिया के लिए समन्वय करेंगे।

जिन खिलाड़ियों में संक्रमण शक होगा उनका ध्यान रखने के लिए और मेडिकल सहायता के लिए एक फीवर आउटपेशेंट केंद्र ओलिंपिक और पैरालिम्पिक विलेज में स्थापित किया जायेगा। इस केंद्र में खिलाड़ियों का ध्यान रखने के लिए सारी सुविधाएँ उप्लब्ध होंगी और इसके साथ ही उनके रहने के लिए भी एक परिसर बनाया जायेगा।

टोक्यो 2020 पैरा खिलाड़ियों के सहायक दल और अन्य कर्मचारियों में संक्रमण को रोकने के लिए भी दिशा निर्देश बनाएगा_।
_

दर्शक

टोक्यो 2020 दिशा निर्देशों को आने वाले समय में प्रसारित करेगा और यह नियम किसी दर्शक के प्रतियोगिता स्थल में बीमार पड़ जाने की स्थिति में लागू

होंगे। इसके अलावा मेडिकल सुविधाएँ भी उप्लब्ध कराई जाएँगी और दर्शक को अस्पताल में भर्ती करने के लिए भी व्यवस्था होगी।

प्रतियोगिता स्थलों पर दर्शक संख्या सीमा को लेकर अंतिम निर्णय अगले साल वसंत तक लिया जायेगा। यह संख्या सीमा प्रतियोगिताओं के समय लागू होगी और उस समय जापान अथवा पूरे विश्व में संक्रमण को देखते हुए इसके बारे में निर्णय लिया जायेगा। दर्शकों की संख्या सीमा को बढ़ाने के लिए हो रहे प्रयोग के परिणाम भी इस संख्या को तय करने में सहायक होंगे।

टोक्यो 2020 विदेशी दर्शकों और स्थानीय जनता में संक्रमण से बचने के लिए टोक्यो 2020 उपायों को निर्धारित करेगी और सभी को सुरक्षित रखने का प्रयास करेगा। अगले वसंत तक कई ठोस उपाय किये जायेंगे और इनको स्थानीय अथवा अंतर्राष्ट्रीय संक्रमण स्तर को ध्यान में रखते हुए अंतिम रूप दिया जायेगा। परिस्थितयों के अनुसार जापान और विदेश में लगे यात्रा प्रतिबंधों और विश्व में आयोजित हो रही अन्य खेल प्रतियोगिताओं को भी संज्ञान में लिया जायेगा।

खेल कर्मचारी

टोक्यो 2020 आयोजकों, मीडिया कर्मचारी, खेल अधिकारी और ओलिंपिक खेलों के संचालन से जुड़े बाकी सारे लोगों से सम्बंधित नियम भी निर्धारित किये जायेंगे और इन सभी लोगों की खिलाड़ियों से निकटता को संज्ञान में लेते हुए यह उपाय निर्धारित किये जायेंगे।

यह सारे उपाय इन सभी कर्मचारियों के जापान में आवागमन और उनके व्यव्हार से जुड़े सारे पहलू भी ध्यान में रखे जायेंगे।

आगे के कदम

टोक्यो मशाल रीले, लाइव साइट पर कार्यक्रम, उद्घाटन और समापन समारोह के अलावा अन्य जगह पर भीड़ रोकने के लिए और अन्य मुद्दों पर टोक्यो 2020 नियमित रूप से राष्ट्रीय सरकार, टोक्यो मेट्रोपोलिटन सरकार, आईओसी, आईपीसी, अंतर्राष्ट्रीय संघ और हर देश की राष्ट्रीय ओलिंपिक और पैरालिम्पिक समितियों से निरंतर चर्चा करते रहेंगे।

सीईओ Muto ने कहा, "पिछले तीन महीनों में हमने जापान सरकार, टोक्यो मेट्रोपोलिटन सरकार और बाकी हितधारकों से कई चर्चाएं करी हैं। मुझे यह भी लगता है कि हमने जो लक्ष्य निर्धारित किये थे उनको प्राप्त किया है और आने वाले समय की प्रगति के संदर्भ में एक बड़ा कदम लिया है।

"इन कार्यों से जुड़ी हर संस्था और दल को हम धन्यवाद देना चाहेंगे।

"हम आने वाले समय में खेलों से जुड़ी हर संस्था से चर्चा करते रहेंगे और सफल अथवा सुरक्षित खेलों के आयोजन को ध्यान में रखते हुए काम करेंगे।"