Osaka और Thiem बने यूएस ओपन चैंपियन

जापान की Naomi Osaka ने 2020 यूएस ओपन में बेलारूस की Victoria Azarenka के खिलाफ अपना महिला एकल फाइनल मैच जीतने के बाद जश्न मनाया। (Al Bello / गेटी इमेज द्वारा फोटो)
जापान की Naomi Osaka ने 2020 यूएस ओपन में बेलारूस की Victoria Azarenka के खिलाफ अपना महिला एकल फाइनल मैच जीतने के बाद जश्न मनाया। (Al Bello / गेटी इमेज द्वारा फोटो)

साल 2020 का यूएस ओपन हर वर्ष के मुकाबले बहुत अलग था और हालांकि दर्शक न होने की वजह से रोमांच में कुछ कमी रह गयी, ग्रैंड स्लैम टेनिस का उत्साह फिर भी बरक़रार रहा।

कोरोना महामारी के कारण रद्द किये गए विंबलडन और विलम्बित फ्रेंच ओपन की वजह से यह ऑस्ट्रेलिआई ओपन के बाद पहला ग्रांड स्लैम था।

दर्शक और प्रशंसक न होने के कारण यह ग्रांड स्लैम काफी शांत माहौल में हुआ लेकिन फाइनल मैच में कुछ नए कुछ पुराने विजेताओं से विश्व का परिचय हुआ।

महिला सिंगल्स

जापान की Naomi Osaka ने शानदार प्रदर्शन दिखाते हुए पूर्व विश्व नंबर एक, Victoria Azarenka को 1-6, 6-3, 6-3 हराते हुए अपना दूसरा यूएस ओपन ख़िताब जीत लिया।

एक सेट पीछे होने के बावजूद, Osaka ने मैच में शानदार वापसी करी और तीसरा ग्रैंड स्लैम सिंगल्स ख़िताब जीता।

Osaka ने अपनी जीत के बाद कहा, 'आज से ठीक दो साल पहले भी मुझे ऐसा ही महसूस हुआ था और ऐसा लगा की मैं हार मान लेती हूँ।'

'मेरा खेल अब पहले से बेहतर हो गया है और मुझे अब पता है की मैच में क्या करना है।'

इस ख़िताब के साथ तीन ग्रैंड स्लैम जीतने वाली, Naomi Osaka पहली एशिआई खिलाड़ी बनी और उन्होंने चीन की Li Na का रिकॉर्ड तोड़ दिया।

पुरुष सिंगल्स

ऑस्ट्रिया के Dominic Thiem ने पुरुषों के सिंगल्स फाइनल में शानदार वापसी करते हुए Alex Zverev को 2-6, 4-6, 6-4, 6-3, 7-6 हराया और अपना पहला ग्रैंड स्लैम ख़िताब जीत लिया। इस शानदार जीत के साथ, Thiem दो सेट पीछे होने के बाद भी यूएस ओपन जीतने वाले पहले ओपन इतिहास के पहले खिलाड़ी बने।

एक रोमांचक और शानदार जीत के बाद वह बोले, 'मेरे लिए बहुत मुश्किल था मैच में बने रहना पर मैंने हिम्मत नहीं हारी और क्योंकि यह एक ग्रैंड स्लैम का फाइनल था तो उम्मीद हमेशा बरकरार रहती है।'

पुरुषों के सिंगल्स वर्ग में नए विजेता के आलावा 2005 के बाद पहली बार ऐसा हुआ की 22 वर्ष से कम उम्र के 11 खिलाड़ी तीसरे राउंड में पहुंचे।

पुरुषों का डबल्स वर्ग

क्रोएशिया के Mate Pavic और ब्राज़ील के Bruno Soares की जोड़ी ने नेदरलैंड के Wesley Koolhof और क्रोएशिया के Nicola Mektic को पुरुषों के डबल्स फाइनल में 7-5, 6-3 हराया और उलटफेर करते हुए ख़िताब अपने नाम किया।

ब्राज़ील के डबल्स सितारे, Soares के लिए यह उनका दूसरा यूएस ओपन ख़िताब था।

ख़िताब जीतने के बाद वह बोले, 'ग्रैंड स्लैम जीतना एक बहुत ही सम्मान और हर्ष की बात है और इसी दिन के लिए खिलाड़ी जीता है। साल की शुरुआत हमारे लिए चाहिए इतनी अच्छी न रही हो, हम चोटिल भी हुए, हारे भी, पर आखिर में हम जीत गए।'

ग्रैंड स्लैम में इतिहास में यह पहली बार हुआ की क्रोएशिया के दो खिलाड़ी पुरुषों के डबल्स फाइनल में थे।

महिलाओं का डबल्स वर्ग

पहली बार साथ खेलने आयी Laura Siegemund और Vera Zvonareva ने विश्व नंबर तीन जोड़ी, Nicole Melichar और XU Yifan को सीधे सेटों में पराजित किया (6-4, 6-4) और ख़िताब अपने नाम किया।

रूस की 36-वर्षीय Zvonareva के लिए यह बेहद खास ख़िताब था क्योंकि इसके पूर्व उन्होंने अपना आखरी डबल्स ख़िताब 2006 में जीता था। इसी बीच उन्हें चोट भी लगी थी और उन्होंने कुछ सालों के लिए टेनिस से एक छोटा सा विश्राम लिया था अपनी बेटी को जन्म देने के लिए। थे।

महिलाओं का व्हीलचेयर सिंगल्स वर्ग

रियो 2016 की रजत पदक विजेता, Diede De Groot ने टोक्यो 2020 खेलों के पहले अपने सारे प्रतिद्वंदियों को चेतावनी देते हुए तीसरा लगातार ख़िताब जीत लिया। उन्होंने जापान की KAMIJI Yui को सीधे सेट 6-3, 6-3 में हराया।

De Groot ने जीत के बाद कहा, 'विश्व के लिए इतने मुश्किल समय में यह ख़िताब जीतना मेरे लिए खास है और यह प्रतियोगिता टेनिस खेल के लिए बहुत ज़रूरी थी!”

पुरुषों का व्हीलचेयर सिंगल्स वर्ग

विश्व नंबर एक, जापान के KUNIEDA Shingo ने दो बार के विजेता, Alfie Hewett को तीन घंटे चले रोमांचक मुकाबले में हराया और ख़िताब अपने नाम कर लिया।

इस जीत से पहले, Shingo को Hewett के सामने तीन बार पराजय का सामना करना पड़ा था पर यूइस ओपन में अपना सातवां ख़िताब उठाते हुए उन्होंने ब्रिटैन के अपने प्रतिद्वंदी को ध्वस्त किया।

Shingo ने मैच के बाद कहा, 'बहुत ही कठिन मुकाबला था यह मेरे लिए और Hewett के पास जीतने के बहुत मौके थे पर मैंने अपनी मानसिक शक्ति और आत्मविश्वास से फाइनल में जगह बनाये रखी।'

पुरुषों का व्हीलचेयर डबल्स वर्ग

अपने सिंगल्स फाइनल के पहले ग्रेट ब्रिटेन के Hewett ने Gordon Reid के साथ पुरुषों के व्हीलचेयर डबल्स फाइनल में जीत हासिल करी और ख़िताब अपने नाम किया। आर्थर ऐश स्टेडियम में पहली बार हुई व्हीलचेयर प्रतियोगिता में ग्रेट ब्रिटैन की इस जोड़ी ने Stephane Houdet और Nicolas Peifer को 6-4, 6-1 से पराजित किया।

फाइनल में जीत के बाद, Reid बोले, 'बहुत अच्छा महसूस हो रहा है और 6 महीने बाद खेलना भी बहुत अच्छा लगा।

महिलाओं का व्हीलचेयर डबल्स वर्ग

ग्रेट ब्ब्रिटैन की Jordanne Whiley और जापान की Yui Kamiji ने फाइनल में De Groot और Marjolein को 6-3, 6-3 हारते हुए महिलाओं का व्हीलचेयर डबल्स ख़िताब अपने नाम किया।'

व्हीलचेयर क्वाड सिंगल्स वर्ग

पहली बार भाग ले रहे नीदरलैंड के Sam Schroder के लिए यह यूएस ओपन हमेशा यादगार रहेगा क्योंकि उन्होंने विश्व नंबर 1 और परलिम्पिक चैंपियन, Dylan Alcott को 7-6, 0-6, 6-4 हराते हुए अपना पहला ग्रैंड स्लैम ख़िताब जीता।

Schroder ने फाइनल जीतने के बाद कहा, 'मैंन अमरीकी टेनिस प्राधिकरण को धन्यवाद देना चाहूंगा और यह मेरे लिए बहुत ही अद्भुत अनुभव रहा है।"

व्हीलचेयर क्वाड डबल्स

Alcott व्हीलचेयर क्वैड का सिंगल्स फाइनल ज़रूर हारे पर वह खली हाथ वापस नहीं गए। ग्रेट ब्रिटैन के Andy Lapthorne के साथ मिल कर उन्होंने डबल्स ख़िताब अपने नाम किया। Alcott और Lapthorne ने फाइनल में David Wagner और Schroder को 3-6, 6-4, [10-8] हराया।

फ्रेंच ओपन 21 सितंबर - 11 अक्टूबर 2020 के बीच आयोजित होने वाला अगला ग्रैंड स्लैम होगा।