अतीत को जाने - Luvsanlkhündegiin Otgonbayar – सबसे अनोखे नाम वाली एथलीट और उनका एक विशेष रिकॉर्ड

मंगोलिया की Luvsanlkhundeg Otgonbayar ने एथेंस 2004 ओलंपिक खेलों में महिलाओं की मैराथन में भाग लिया। (Scott Barbour/ गेटी इमेज द्वारा फोटो)
मंगोलिया की Luvsanlkhundeg Otgonbayar ने एथेंस 2004 ओलंपिक खेलों में महिलाओं की मैराथन में भाग लिया। (Scott Barbour/ गेटी इमेज द्वारा फोटो)

ओलंपिक खेल चैंपियन, रिकॉर्ड और अद्भुत कहानियों से भरे हुए हैं, लेकिन इसके अलावा, कुछ याद रखने वाले अजीब, मजाकिया, भावनात्मक और दुखद क्षण भी शामिल हैं। हम हर हफ्ते आपके लिए कुछ कहानियां लाएंगे जो या तो आपके चेहरे पर मुस्कान लाएंगी या फिर आपको रुला देंगी। इस हफ्ते, हम सबसे धीमे ओलंपिक मैराथन फिनिशर की कहानी पर एक नजर डालेंगे।

बैकग्राउंड

Luvsanlkhündegiin Otgonbayar के पास न केवल ओलंपिक इतिहास का सबसे अलग नाम है, बल्कि वह एक ऐसा रिकॉर्ड भी रखती है जो सामान्य रूप से बेहद अनोखा है। हालांकि यह सबसे प्रभावशाली रिकॉर्ड नहीं है, फिर भी हम इसके बारे में बात करेंगे।

यह रिकॉर्ड एथेंस 2004 में हासिल किया गया था, लेकिन एक एथलीट के रूप में उनकी कहानी उससे बहुत पहले शुरू हुई थी।

वह 1982 में मंगोलिया में पैदा हुई थीं और जल्द ही उन्हें लॉन्ग डिस्टेंस रनिंग से प्यार हो गया था। जब वह केवल 16-वर्ष की थी, तब उन्होंने अपनी पहली बड़ी प्रतियोगिता में भाग लिया - 1998 में एनेसी, फ्रांस में विश्व जूनियर चैंपियनशिप में 3,000 मीटर और 5,000 मीटर की दौड़ में।

छह साल बाद, Otgonbayar ने ओलंपिक खेलों के लिए क्वालीफाई किया।

लेकिन इस बार वह दिग्गज मैराथन स्पर्धा में दौड़ रही होंगी।

फाइनल

इस इवेंट के दौरान, मंगोलियाई एथलीट ने अगले सबसे धीमे मैराथन धावक की तुलना में 30 मिनट से अधिक का समय लिया और 3:48:42 के रिकॉर्ड समय के साथ दौड़ पूरी की - जिसे ओलंपिक मैराथन दौड़ में अब तक का सबसे धीमा फिनिश भी कहा जाता है।

Otgonbayar ने एथेंस में तीव्र गर्मी के कारण संघर्ष किया था, लेकिन भीड़ से समर्थन प्राप्त करके - वह दौड़ पूरी करने में सक्षम थी।

परिणाम

उस प्रदर्शन के बावजूद, उन्होंने दौड़ना बंद नहीं किया। Otgonbayar ने 2007 IAAF वर्ल्ड चैंपियनशिप, 2008 बीजिंग मैराथन (छठे स्थान पर), 2009 शंघाई मैराथन (पांचवें स्थान पर) और 2011 प्राहा मैराथन (आठवें स्थान पर) जैसे टूर्नामेंट में एक एलीट स्तर पर भाग लिया।

फिर, 2012 में लंदन में अपने दूसरे ओलंपिक खेलों के दौरान, Otgonbayar ने 2:52:15 का समय दर्ज किया और 107 फिनिशर्स में से 102वें स्थान पर रही।

लेकिन उनका सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन आना अभी बाकी था। मार्च 2016 में, एथलीट ने पीपुल्स रिपब्लिक ऑफ चाइना के Zhengzhou Marathon में 2:35:50 का व्यक्तिगत सर्वश्रेष्ठ रिकॉर्ड बनाया।

उसी वर्ष उन्होंने अपने तीसरे ओलंपिक खेलों - रियो 2016 में भी भाग लिया। उन्होंने 2:45:55 में 42 किमी की दौड़ पूरी की और 85वें स्थान पर रही - जो उनका ओलंपिक में सर्वश्रेष्ठ परिणाम रहा।

Otgonbayar 2016 में रिटायर हुई। उनके करियर को समाप्त करने का इससे बेहतर तरीका नहीं हो सकता था।