लेट्स 55 वर्चुअल एक्सपीरियंस - आइए MIZUMOTO Keiji के साथ कैनो स्प्रिंट के अनुभवों के बारे में जानें

canoe-thum-02

जब ओलंपियन और पैरालम्पियन अपने अविश्वसनीय कौशल का प्रदर्शन करते है, तो क्या हम कभी यह जान पाएंगे कि वे क्या सोचते हैं जब वे यह कौतूहल भरे अचंभे करते हैं? कुछ लोगों के लिए यह शायद बहुत आश्चर्य की बात है क्योंकि वे अपने चहेते एथलीटों को सबसे बड़े पुरस्कार के लिए प्रतिस्पर्धा करते देखना पसंद करते हैं लेकिन उन्होंने कभी भी यह नहीं सोचा होगा कि इस मुकाम पर पहुंचने के लिए प्रत्येक खिलाड़ी ने कितना अनुशासन पूर्ण रास्ता चुना है और इसके पीछे की प्रेरणा क्या है? टोक्यो 2020 'लेट्स 55 वर्चुअल एक्सपीरियंस' पेश करता है, जो कि टोक्यो 2020 खेलों प्रोग्राम के सभी 55 खेलों को कवर करते हुए एक शीर्ष स्तर के एथलीट के रूप में प्रतिस्पर्धा करने के लिए वास्तव में कैसा दिखता है, इसका एक अभिनव अनुभव प्रदान करता है।

कैनो स्प्रिंट

माना के MIZUMOTO Keiji Canoe Sprint Kayak Four (K-4) में ओलंपिक चयन के लिए सबसे आगे हैं, लेकिन जब वह पानी में जाते हैं, तो उनकी आंखों से पानी के अंदर का दृश्य कैसा नज़र आता हैं? "आइए 55 वर्चुअल एक्सपीरियंस" के द्वारा उनके इस अनुभव के बारे में जानें।

हमने MIZUMOTO से पूछा कि उन्होंने खेल की शुरुआत कैसे की, कैनो स्प्रिंट इतनी आकर्षक क्यों है और टोक्यो 2020 खेलों के बारे में उनकी भावनाएं क्या हैं।

आइए देखें कि हम एक पैडल से कैसे आगे बढ़ते हैं?

"मैंने हाई स्कूल में कैनोइंग की शुरुआत की। मैं जूनियर हाई में बेसबॉल खेलता था, लेकिन मैं हाई स्कूल में एक व्यक्तिगत खेल खेलना चाहता था। जिस समय मैंने हाई स्कूल में प्रवेश किया, उस समय वह इवेट प्रीफेक्चर में एकमात्र कैनो टीम थी। मैंने फैसला किया कि मैं एक नई चुनौती लेना चाहता हूं और मैंने कैनो टीम के लिए साइन अप किया। चूंकि कैनो गति के बारे में है और नाव बहुत पतली होती है, इसलिए इसे सवारी करने की आदत डालने में थोड़ा समय लगा। यह आसान नहीं था। इससे पहले कि आप इसे पूरी तरह से कुशलता हासिल कर सकें, इसमें अभी कुछ साल लगेंगे।

"गति खेल का सबसे रोमांचक पहलू होता है। यह आपके द्वारा कल्पना की गई तुलना में बहुत आगे की बात है। मैं कायाक इवेंट में प्रतिस्पर्धा करता हूं और चार पैडलर्स के साथ कायाक सबसे तेज है। आप चार पैडलर्स की सही पिच से प्रभावित होंगे। और वॉटर स्पलैशिंग जैसा कि हम जानते हैं आगे की तरफ धक्का देना काफी चुनौतीपूर्ण होता है और यह काफी प्रभावपूर्ण होती है। 

"तकनीकी तौर पर, मैं लोगों को यह दिखाना चाहूंगा कि कश्ती एक ही पैडल में कितनी तेज और शक्तिशाली होती है। पैडलर्स की पिच जितनी तेज होती है, उतनी ही अधिक शक्ति उत्पन्न होती है। लेकिन कुछ देश अपनी पिच को नियंत्रित करते हैं और तब भी दूसरों की तुलना में तेजी से आगे बढ़ते हैं। इसलिए प्रत्येक टीम के लिए अलग तरह से काम करता है। जब आप हमें रेस करते देखते हैं तो तुलना करना और भी दिलचस्प होता है। 

"एक प्रतियोगी के रूप में, यह अलग-अलग प्राकृतिक वातावरण में दौड़ने का मज़ा है। कुछ प्रतियोगिताएं ऐसी होती हैं जहां परिवेश प्रकृति से भरा होता है, जो बहुत अच्छा है। मैं व्यक्तिगत रूप से उन उपकरणों का अधिकतम उपयोग करना पसंद करता हूं जो हमारी शक्ति को और अधिक बढ़ाते हैं। टोक्यो 2020 खेलों के स्थगन के साथ हमारे सामने कई चुनौतियां आई, लेकिन मुझे उम्मीद है कि हम दिखा सकते हैं कि हम कितनी ताकत से दौड़ सकते हैं और किसी भी चिंता को दूर कर सकते हैं।”