फुटबॉल से क्रॉस-कंट्री से स्टीपलचेज़ तक - Jimmy Gressier की एक अनोखी यात्रा

फ्रांस के Jimmy Gressier यूरोपीय एथलेटिक्स U23 चैंपियनशिप 2019 के दौरान 10,000 मीटर पुरुष फाइनल के बाद जश्न मनाते हैं। (Oliver Hardt/ यूरोपीय एथलेटिक्स के लिए गेटी इमेज द्वारा फोटो)
फ्रांस के Jimmy Gressier यूरोपीय एथलेटिक्स U23 चैंपियनशिप 2019 के दौरान 10,000 मीटर पुरुष फाइनल के बाद जश्न मनाते हैं। (Oliver Hardt/ यूरोपीय एथलेटिक्स के लिए गेटी इमेज द्वारा फोटो)

केवल 23 साल की उम्र में, Jimmy Gressier पहले से ही फ्रांसीसी लॉन्ग डिस्टेंस की दौड़ के भविष्य का प्रतिनिधित्व करते हैं। हालांकि वह एथलेटिक्स नहीं खेलना चाहते थे, उन्होंने टोक्यो 2020 को बताया कि वह अपने पसंदीदा खेल - फुटबॉल से एथलेटिक्स में कैसे चले गए। वह अगले साल खेलों में उस अनुशासन में प्रतिस्पर्धा करने के अपने उद्देश्य पर भी बात करते हैं।

जब उन्होंने पिछले साल स्वीडन के गवले में 5,000 मीटर फिनिश लाइन पार की, तो Jimmy Gressier U23 लंबी दूरी की ट्रैक रेस के नए यूरोपीय राजा बन गए।

फ्रांसीसी धावक ने न केवल 5,000 मीटर में, बल्कि बोथियन सी शहर में दो दिन पहले 10,000 मीटर में भी स्वर्ण पदक जीता, जहां 2019 यूरोपीय एथलेटिक्स U23 चैंपियनशिप आयोजित की गई थी।

उन्हें पता था कि वह पदक जीतने के लिए पसंदीदा हैं, लेकिन लगातार तीन क्रॉस-कंट्री यूरोपीय युथ खिताब जीतने के बावजूद, उन्होंने ट्रैक पर एक बड़ी जीत का दावा नहीं किया था।

"5,000 मीटर की दौड़ शुरू होने से पहले, मेरे ऊपर बहुत दबाव था क्योंकि हर कोई मुझ पर ध्यान केंद्रित कर रहा था," Gressier ने टोक्यो 2020 को बताया।

"दौड़ के दौरान, मैं नहीं चाहता था कि मुझ पर ध्यान केंद्रित किया जाए, इसलिए मैंने अन्य धावकों को बढ़त लेने दी। अंतिम 100 मीटर में, मैंने गति प्राप्त की और अटैक किया और यह मददगार था," 23 वर्षीय एथलीट याद करते हैं।

इस पल में, उनके जीवन ने एक नया मोड़ लिया।

अपने फुटबॉल के सपनों को छोड़ना

लॉन्ग डिस्टेंस में फ्रांस के लिए स्वर्ण पदक जीतने के दावेदारों में से एक के रूप में उभरने से पहले, Gressier कहीं और दौड़ते थे।

उनका खेल का मैदान उत्तरी फ्रांस के शहर Boulogne-sur-Mer की फुटबॉल पिच थी, जहां प्रसिद्ध फुटबॉल स्टार, Franck Ribery बड़े हुए थे। चूंकि वह स्वाभाविक रूप से एक अच्छे धावक थे और फुटबॉल में भी अच्छे थे, Gressier ने एथलेटिक्स से आगे फुटबॉल को चुना।

"फुटबॉल वह था जो मुझे सबसे ज्यादा पसंद था, मुझे इसे खेलने में बहुत मज़ा आता था," उन्होंने कहा।

उस समय, फुटबॉल कोच के साथ कई स्थानीय एथलेटिक्स प्रशिक्षकों ने युवा खिलाड़ी की क्षमता को देखा।

"वे मुझे बता रहे थे कि एक फुटबॉलर के रूप में मैं बहुत कुशल था। मैंने स्थानीय स्कूल एथलेटिक्स प्रतियोगिताओं में भाग लिया और मैं युवा एथलीट्स को हरा रहा था।"

2014 में, जब Gressier 16 साल के थे, वह फुटबॉल खेलने के साथ-साथ स्थानीय क्रॉस-कंट्री दौड़ भी खेल रहे थे। लेकिन फिर उन्हें एक खेल चुनना पड़ा - या तो वह फुटबॉल खेलना जारी रखते, वह खेल जिसे वह सबसे ज्यादा प्यार करते थे - या उन्हें एथलेटिक्स चुनना था - वह खेल जिसमें कई कोच मानते थे कि वह सफल हो सकते है।

एक साल बाद, ग्वाटेमाला में वर्ल्ड स्कूल फुटबॉल कप में फ्रांस का प्रतिनिधित्व करने के लिए Gressier को चुना गया - और, उन्होंने पीपुल्स रिपब्लिक ऑफ चाइना में जूनियर क्रॉस-कंट्री वर्ल्ड चैंपियनशिप में भाग लेने के लिए भी योग्यता प्राप्त की। वह दोनों करने को तैयार हो गए।

हालांकि, कुछ महीनों बाद, उन्होंने अपने जीवन का सबसे महत्वपूर्ण निर्णय लिया।

"मैंने 17 साल की उम्र में फुटबॉल खेलना बंद कर दिया था। मैंने खेलना छोड़ दिया क्योंकि मेरे कोच मुझे बता रहे थे कि मैं एथलेटिक्स में फ्रेंच टीम का हिस्सा बन सकता हूं और ओलंपियन बन सकता हूं। राष्ट्रीय जर्सी पहनना बहुत सुंदर है।"

लोग मुझे बताते रहे कि क्रॉस-कंट्री या रोड रनर के लिए ट्रैक्स पर मजबूत होना बहुत मुश्किल था।

Parque da Bela Vista में यूरोपीय क्रॉस कंट्री चैंपियनशिप के U23 पुरुषों की अंतिम दौड़ के बाद फ्रांस के Jimmy Gressier ने प्रतिक्रिया व्यक्त की। (यूरोपीय एथलेटिक्स के लिए Oliver Hardt/ गेटी इमेज द्वारा फोटो)
Parque da Bela Vista में यूरोपीय क्रॉस कंट्री चैंपियनशिप के U23 पुरुषों की अंतिम दौड़ के बाद फ्रांस के Jimmy Gressier ने प्रतिक्रिया व्यक्त की। (यूरोपीय एथलेटिक्स के लिए Oliver Hardt/ गेटी इमेज द्वारा फोटो)
2019 Getty Images

बस तब से मैं रुका नहीं

तब से, Gressier ने दौड़ना बंद नहीं किया है, खासकर जब यह उनके पसंदीदा अनुशासन की बात आती है - क्रॉस-कंट्री। उन्होंने 2017 में अपना पहला खिताब तब जीता जब वह U-23 क्रॉस-कंट्री यूरोपियन चैंपियन बने।

उन्होंने 2018 में Corrida de Houilles, फ्रांस में 10 किमी दौड़ में एक सराहनीय 28:13 के साथ रोड पर अपने समय का आनंद लिया।

और फिर समस्या शुरू हुई। क्रॉस-कंट्री सीज़न खत्म होने के बाद, नया ट्रैक सीज़न शुरू हुआ। और कई प्रयासों के बावजूद, वह वहां अच्छा प्रदर्शन नहीं कर सके।

और जैसे-जैसे वह नियमित रूप से ट्रैक पर असफल होने लगे, हर कोई उनकी आलोचना करने लगा।

"लोग मुझे बताते रहे कि क्रॉस-कंट्री या रोड रनर के लिए ट्रैक्स पर मजबूत होना बहुत मुश्किल था। मुझे पता था कि मैं क्रॉस-कंट्री में बहुत अच्छा था और फिर भी ट्रैक पर अच्छा नहीं कर सका। उन चीजों ने मेरे मन में संदेह पैदा किया, जिसे मैं दूर करना चाहता था, क्योंकि अगर मैं ऐसा नहीं करता, तो यह मेरे लिए मुश्किल होता।

अपने कोच Arnaud Dinielle के साथ काफी विचार-विमर्श करने के बाद, और बहुत मेहनत करने के बाद, आखिरकार Gressier ने जुलाई 2019 में गवले में अपने मानसिक ब्लॉक को खत्म कर दिया।

"मुझे मेरा आत्मविश्वास वापस मिल गया। अब क्रॉस-कंट्री और रोड रनर के बारे में कहने वालों के लिए कोई जगह नहीं है। जब आप एक अच्छे धावक होते हैं, तो आप हर जगह अच्छे होते हैं।

"मुझे एक पेशेवर एथलीट बनने के लिए स्कूल में अच्छा होना था।

इसलिए मैंने हार नहीं मानी।

कठिन वातावरण में आगे बढ़ना

Boulogne-sur-Mer से एक टीनएजर - जो कि एक भारी इंडस्ट्रियल एरिया था - इस बात से अनजान था कि खेलों के कारण वह स्कूल में भी सफल हो सकता था।

"मैं स्कूल में अच्छा नहीं था," वह याद करते हैं। "या तो मुझे खेलों में अच्छा बनना होगा जो मुझे उस स्थान से बाहर निकलने में मदद करेगा, या फिर मैं कारखानों में काम करना शुरू कर दूंगा क्योंकि मुझे वैसे भी स्कूल छोड़ना होगा।"

"मुझे पता था कि पेशेवर एथलीट बनने के लिए मुझे स्कूल में अच्छा होना था, इसलिए मैंने स्कूल में हार नहीं मानी। मुझे पता था कि मैं खेल में सफल होना चाहता था।"

दो साल तक, उन्होंने एक फ्रांसीसी बैंक के लिए एक इंटर्न के रूप में प्रशिक्षण, अध्ययन और काम किया। अब वह नेगोटिएशन और कस्टमर रिलेशन में BTS [फ्रांस में द्वितीय वर्ष की डिग्री] रखते हैं जिसे उन्होंने पिछले साल पास किया था। एक बार फिर, उनके जीवन ने एक ऐसा मोड़ लिया है जिसकी भविष्यवाणी कम ही लोग कर सकते थे।

उस डिग्री को प्राप्त करने के बाद, उन्होंने अपना ध्यान वापस एथलेटिक्स पर केंद्रित कर दिया और प्रशिक्षण शुरू कर दिया। उन्होंने बहुत गति प्राप्त की, और अब एक सप्ताह में लगभग 140 किमी तक दौड़ते है।

स्टीपलचेज़ ओलिंपिक ड्रीम

उनकी ओलंपिक योजनाएं अब ठोस होने लगी हैं। 13:13:50 पर ओलंपिक प्रवेश मानक के रूप में सेट किया गया और 5000 मीटर में अपनी व्यक्तिगत सर्वश्रेष्ठ 13.23 के साथ वह निश्चित रूप से दिए गए लक्ष्य को प्राप्त कर सकते है।

"अगर इस साल खेल आयोजित किए गए होते, तो मैं योग्य होता। मैं इस सत्र में 13:10 या 13:05 दौड़ सकता था," वे बताते हैं।

हालांकि, फ्रांसीसी धावक अब टोक्यो में पूरी तरह से अलग अनुशासन - 3,000 मीटर स्टीपलचेज़ - एक ऐसी इवेंट में प्रतिस्पर्धा करना चाहते हैं, जिसमें उन्हें प्रतिस्पर्धा करनी बाकी है। उनके अलावा, एक अन्य फ्रांसीसी एथलीट, ट्रिपल ओलंपिक पदक विजेता Mahiedine Mekhissi भी इसी इवेंट के लिए क्वालीफाई करने का लक्ष्य लेकर चल रहे हैं।

"मुझे लगता है कि यह वह इवेंट है जिसमें मेरे पास क्वालीफाई करने का सबसे अच्छा मौका है," उन्होंने कहा। "मुझे पता है कि मुझे प्रशिक्षण और प्रगति के लिए समय चाहिए, लेकिन मैं बहुत मजबूत हो सकता हूं।"

जब उनसे उस अनुशासन में अनुभव की कमी के बारे में पूछा गया, तो वह स्पष्ट रूप से जवाब देते हैं कि यह हो सकता है - "मेरे पास साबित करने के लिए सब कुछ है और खोने के लिए कुछ भी नहीं है। मुझे पता है कि मुझे इस अनुशासन का सम्मान करने की आवश्यकता है और मुझे कड़ी ट्रेनिंग करनी होगी।"

सुनहरी सड़क

इस वर्ष की शुरुआत में, Gressier ने एरिज़ोना के फ्लैगस्टाफ की यात्रा की, जहाँ उन्होंने ओलंपिक प्रवेश मानकों तक पहुँचने के लिए विश्वविद्यालय प्रतियोगिता सीजन में भाग लेने के लिए प्रशिक्षण लिया।

हालांकि, महामारी के कारण, वह अब फ्रांस में वापस आ गए हैं और वर्तमान में एक सप्ताह में एक बार 3,000 मीटर स्टीपलचेज़ समूह के साथ पेरिस के बाहरी इलाके में नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ स्पोर्ट, एक्सपेर्टीज़ एंड परफॉरमेंस (INSEP) में अपने साथी फ्रेंच एथलीट्स Emma Oudiou और Maeva Danois के साथ प्रशिक्षण ले रहे हैं।

वह अभी 5000 मीटर पर हार नहीं मानेंगे, लेकिन अगर वह दोनों में ओलंपिक मानकों तक पहुंच जाते है, तो वह स्टीपलचेज़ में प्रवेश करेंगे।

पिछले साल पेरिस 2024 की बातचीत के बीच, Gressier ने बताया कि वह मैराथन धावक के रूप में भी प्रतिस्पर्धा कर सकते हैं क्योंकि वह सड़क पर इतने मजबूत थे।

लेकिन अब, उनके पास ट्रेनिंग करने के लिए एक और वर्ष है, और उनका लक्ष्य स्पष्ट है - "मैं टोक्यो में फाइनल में पहुंचना चाहता हूं। एक बार जब मैं वहां पहुंच गया तो सब कुछ संभव है।"