टोक्यो 2020 खेलों के लिए खास अभ्यास कर रहे हैं भारतीय हॉकी खिलाड़ी 

HCOKEY MEN'S IMAGE

कोरोना महामारी के कारण प्रतियोगिता में भाग न ले पाने के कारण इस समय भारतीय टीम का ध्यान कड़े अभ्यास पर केंद्रित। 

टोक्यो 2020 खेलों के प्रारंभ में अब छह महीने से कम समय बचा है और भारतीय पुरुष हॉकी टीम का ध्यान जापान में देश को 21वीं सदी का पहला ओलिंपिक पदक दिलाने के लक्ष्य पर केंद्रित है। भारतीय खेमे के सबसे महत्वपूर्ण खिलाड़ियों में से एक हैं Mandeep Singh और वह इस समय टीम के साथ बेंगलुरु में अभ्यास कर रहे हैं। हॉकी इंडिया से की गयी बातचीत में उन्होंने टीम के अभ्यास सत्र के बारे में बताया।

प्रतियोगिता नहीं लेकिन कड़ा अभ्यास जारी

कोरोना महामारी के कारण भारतीय पुरुष हॉकी टीम आने वाले कुछ समय तक कोई प्रतियोगिता या मैच नहीं खेलने वाली है लेकिन Mandeep के अनुसार यह समय खिलाड़ियों के लिए बहुत महत्वपूर्ण रहेगा। बेंगलुरु में अभ्यास कर रही टीम के लिए तीव्रता और गहनता को बनाये रखना बहुत ज़रूरी होगा।

हॉकी इंडिया से बात करते हुए Mandeep ने कहा, "हम राष्ट्रिय कोचिंग कैम्प के हर सत्र में अपने सर्वोच्च प्रयास कर रहे हैं। आने वाले दिनों में हम किसी प्रतियोगिता में भाग नहीं लेने वाले लेकिन हमारी टीम का हर एक खिलाड़ी यह प्रयास करेगा कि अभ्यास की गहनता और तीव्रता कम न हो। जब भी हम मैदान में उतरेंगे तो यह बात सुनिश्चित करेंगे कि खेल का स्तर सर्वोच्च रहे। टोक्यो 2020 ओलिंपिक खेलों की तैयारी करने के लिए यह समय सबसे ज़्यादा ज़रूरी है और हमारा लक्ष्य जापान में होने वाले खेलों में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन दिखाना है। हम कड़ा अभ्यास कर रहे हैं और टीम अच्छा रूप ले रही है।"

टोक्यो 2020 खेलों के लिए खास अभ्यास

भारत ने हॉकी में 1980 मॉस्को खेलों के बाद से अभी तक ओलिंपिक पदक नहीं जीता है और यह टीम टोक्यो में इतिहास बदलने का प्रयास करेगी। प्रतियोगिताओं में भाग लेने की बात करें तो भारत के लिए अप्रैल से पहले कोई मुकाबले में हिस्सा नहीं लेगी। इस समय का उपयोग करते हुए भारतीय टीम कुछ खास पैंतरों और रणनीतियों पर काम कर रही है।

आक्रमण पंक्ति में खेलने वाले Mandeep ने कहा, "इस समय हमारा ध्यान अपने कौशल को सुधारने में है और शारीरिक शक्ति को भी बढ़ाना हमारे लिए बहुत ज़रूरी है। इस लक्ष्य के लिए हम कुछ ख़ास अभ्यास कर रहे हैं जिसमे शूटिंग, रक्षात्मक खेल और टैकल करना शामिल है। हर एक खिलाड़ी अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन दिखाने का प्रयास कर रहा है और हमारा हर एक सत्र सफल रहा है।"

Mandeep ने बताया, "शारीरिक स्वास्थ्य को बरकरार रखने के साथ मानसिक संतुलन बनाये रखना भी बहुत ज़रूरी होगा। हमारी पूरी टीम एक परिवार की तरह है और यहाँ का वातावरण हमारे लिए बहुत अच्छा रहा है।"