‘खुश मिजाज़ लडकी’ एक रोमांचक अनुभव के लिए तैयार

ऑस्ट्रेलिया की Stephanie Gilmore टोक्यो ओलंपिक खेलों में प्रतिस्पर्धा करने की उम्मीद कर रही हैं। (Sean M. Haffey/ गेटी इमेज द्वारा फोटो)
ऑस्ट्रेलिया की Stephanie Gilmore टोक्यो ओलंपिक खेलों में प्रतिस्पर्धा करने की उम्मीद कर रही हैं। (Sean M. Haffey/ गेटी इमेज द्वारा फोटो)

Stephanie Gilmore ने ओलंपिक, अपने प्रेरणाओं, Cathy Freeman, अपने माता-पिता और बहुत कुछ पर अपने विचार साझा किए...

32 साल की Stephanie Gilmore सात बार सर्फिंग विश्व चैंपियन रह चुकी हैं। जब वह सर्फिंग के बारे में बात करती है तो आपको एक विचार मिलता है कि उन्होंने बहुत कुछ देखा है। फिर भी, ऑस्ट्रेलियाई एथलीट ने बहुत सारी बातें कीं - खुद से सवाल किए, अपनी कहानियों को साझा किया और ओलंपिक खेलों के बारे में वह क्या सोचती हैं वो बताया।

ओलंपिक चैनल पॉडकास्ट से बात करते हुए, वह बताती है कि क्या उसे सबसे ज्यादा प्रेरित करता है। "सबसे पहले, मैं सर्फिंग से प्यार करती हूं। और मुझे लगता है कि आप अपने करियर के दौरान कई पड़ावों से गुजरते हैं। शुरुआत में, मैं जो करना चाहती थी, वह सर्फिंग था। मैंने एक पेशेवर एथलीट होने के अन्य तत्वों के बारे में नहीं सोचा। हालांकि, पिछले कुछ वर्षों में, मैं उस क्षण तक पहुंच गयी हूं जहां मैं जीतना चाहती हूं, लेकिन मैं जानना चाहती हूं कि मैं इसका उपयोग वास्तव में दुनिया में बदलाव लाने के लिए कैसे कर सकतीा हूं।

ओलंपिक डेब्यू करने के लिए गिलमोर नहीं कर सकतीं हैं टोक्यो लौटने का इंतज़ार
02:52

वह अपने करियर के उस पड़ाव पर हैं जहां उन्हें अपने खेल में प्रतिस्पर्धी होने और अपने जीवन का आनंद लेने के बीच सही संतुलन बनाना है। "मेरे अंदर के आत्मविश्वास के लिए और मैंने कैसे सही संतुलन बनाए रखा है - इसका पूरा श्रेय मेरे माता-पिता को जाना चाहिए। वे इतने संवेदनशील रहे हैं।"

"मेरे माता-पिता ने हमेशा हमारा समर्थन किया है, और यह कुछ ऐसा था जो मैं और मेरी बहनें उनके बारे में बहुत पसंद करते थे। हम हॉकी, फुटबॉल, एथलेटिक्स और यहां तक कि नृत्य भी करते थे। मैं सब कुछ करती थी। हम बहुत अमीर नहीं थे और हमारे माता-पिता ने हमारे लिए बहुत त्याग किया है। हमने बहुत खुशहाल जीवन व्यतीत किया है।”

2010 के दौरान, वह बहुत दर्दनाक घटना से गुजरी। "एक बेघर आदमी ने मुझ पर बहुत बुरी तरह से हमला किया था। मुझे लगता है कि वह पागल था। उसने मुझे रॉड से सिर में मारा और मुझे काफी चोटें आईं थी। मेरे सिर पर टांके लगे थे और मेरी कलाई भी टूट गई थी," उन्होंने कहा।

भले ही मानसिक, और शारीरिक रूप से बेहतर होने में समय लगा हो, लेकिन Gilmore ने इस बीच अपने, अपने करियर और अपने जीवन के बारे में बहुत कुछ सीखा। "यह मेरे लिए एक दर्दनाक अनुभव था। मेरे लिए स्थिति से निपटना आसान नहीं था, लेकिन किसी तरह मैंने ऐसा किया। मुझे जीवन में सामान्य महसूस करने में कई साल लग गए। उस समय के दौरान, मैं सर्फिंग में वापस आना चाहती थी। लेकिन फिर मुझे महसूस हुआ कि आपको अतीत को पीछे छोड़ना होगा और आगे बढ़ना होगा।”

"मुझे उस दर्दनाक घटना के बाद चीजों को हासिल करने के लिए बहुत अधिक काम करना पड़ा था। मेरे लिए जीतना, उसके बाद, सबसे महत्वपूर्ण चीज बन गई थी। मैंने कुछ साल बाद स्वर्ण पदक जीता और मुझे लगा," ठीक है, यह मेरी सबसे बड़ी जीत है क्योंकि यहां तक पहुंचने के लिए मैंने काफी मेहनत की है।”

हमेशा की तरह, Gilmore आगे बढ़ गयी। और उनके सपने अभी भी बहुत बड़े हैं। उनका एक सपना टोक्यो 2020 ओलंपिक खेलों में ऑस्ट्रेलिया का प्रतिनिधित्व करना है - जहां सर्फिंग भी अपनी शुरुआत करेगी। इसके अलावा, महान ऑस्ट्रेलियाई ओलंपियन, Cathy Freeman से मिलने के बाद, वह प्रेरित हुईं।

"Cathy एक ऑस्ट्रेलियाई आइकन है। मुझे याद है कि मैं एक 12 साल की लड़की थी जब मैंने Cathy को 400 मीटर में सिडनी ओलंपिक में स्वर्ण पदक जीत ते देखा था। मैं सोचती थी कि मैं भी एक दिन ओलंपिक में जाऊँगी और एक पदक जीतूँगी। लेकिन अब मुझे एहसास हुआ कि एथलीट उन वर्षों में प्रशिक्षण में इतनी मेहनत क्यों करते हैं - बस उस स्वर्ण पदक को जीतने के लिए।"

ओलंपिक डेब्यू करने के लिए गिलमोर नहीं कर सकतीं हैं टोक्यो लौटने का इंतज़ार
02:52