Elodie Clouvel: तैराकी से पेंटाथलॉन तक का रोमांचक सफर

रजत पदक विजेता फ्रांस की Elodie Clouvel ने रियो 2016 ओलंपिक खेलों में महिला आधुनिक पेंटाथलॉन के लिए पदक समारोह के दौरान पोडियम पर पोज दिया। (Sam Greenwood/ गेटी इमेज द्वारा फोटो)
रजत पदक विजेता फ्रांस की Elodie Clouvel ने रियो 2016 ओलंपिक खेलों में महिला आधुनिक पेंटाथलॉन के लिए पदक समारोह के दौरान पोडियम पर पोज दिया। (Sam Greenwood/ गेटी इमेज द्वारा फोटो)

बीजिंग 2008 में तैराकी के लिए अर्हता प्राप्त करने में असफल रहने के बाद, Elodie Clouvel का रुख अचानक ही आधुनिक पेंटाथलॉन की ओर हो गया। यह एक आमूल-चूल परिवर्तन था, जिसने रियो 2016 में फ्रेंच एथलीट को रजत पदक सुरक्षित करने का नेतृत्व किया। अब 31 वर्ष की आयु में, स्टार ने अपनी आँखें अगले साल स्वर्ण हासिल करने पर लगा दी हैं।

जब Elodie Clouvel ने रियो 2016 में रजत पदक प्राप्त किया, तो उसे आधुनिक पेंटाथलॉन में पैर जमाए आठ साल बीत चुके थे - तलवारबाजी, तैराकी, घुड़सवारी, शूटिंग और दौड़ का संयुक्त खेल।

जब उन्होंने अपने देश की महिला Laure Manaudou को एथेंस 2004 में 400 मीटर फ्रीस्टाइल में जीतते हुए देखा, तो Clouvel ने ओलंपिक के बारे में सपना देखना शुरू कर दिया। इसके अलावा, 18 साल की उम्र में, वह शीर्ष 20 फ्रेंच 200 मीटर और 400 मीटर फ्रीस्टाइल तैराकों में से एक थी।

यहां तक कि उन्होंने Philippe Lucas के साथ एक वर्ष के लिए प्रशिक्षण भी लिया - जो कि उनके आइडल रहे, वह Manaudou के भी पूर्व कोच थे और वह व्यापक रूप से विख्यात भी थे। उनका लक्ष्य बीजिंग 2008 में मुकाबले के लिए पूरी तरह से खुद को तैयार करना था, लेकिन क्योंकि उनका जुनून तैराकी की ओर ज्यादा था, इसके कारण बीजिंग गेम्स के लिए वह अपना टिकट बुक करने में असफल रहीं।

"मैंने एक बार फिर से शुरू से शुरुआत करने का फैसला किया," Clouvel ने टोक्यो 2020 के दौरान प्रेस को बताया।

"French Modern Pentathlon Federation ने मेरा प्रदर्शन देखा और इसके सदस्य मुझसे मिले। इसके साथ ही मेरे जीवन का टर्निंग प्वाइंट आया और मैं सितंबर 2008 में National Institute of Sport, Expertise, and Performance (INSEP) में शामिल हो गई। मैंने इस नई चुनौती को स्वीकार किया और अब मेरा नया लक्ष्य लंदन 2012 के लिए क्वालीफाई करना था - और वह भी केवल साढ़े तीन साल के अभ्यास के बाद।"

एलोदी कलूवेल: 'मॉडर्न पेंटाथलॉन शतरंज के खेल की तरह है'
03:00

शूटिंग, तलवारबाजी और घुड़सवारी की शुरुआत

Clouvel ने लंदन 2012 के लिए क्वालीफाई किया और मॉडर्न पेंटाथलॉन में 31वें स्थान पर रही । यह एक उत्कृष्ट उपलब्धि थी।

तीन साल पहले, उन्होंने कभी बंदूक भी नहीं चलाई थी, ना ही कभी तलवार चलाई थी और घुड़सवारी उनके लिए रोजाना करने वाले एक प्रोफेशनल काम की बजाए, अवकाश में करने वाली एक गतिविधि थी। लेकिन किसे पता था कि, यह Clouvel के लिए अंततः एक साथ में करने वाला रोजाना का रूटीन का काम हो जाएगा।

सीखने की निरंतर इच्छा के बिना किसी भी खेल में शीर्ष पर पहुंचने की शुरुआत करना और पहुंचना संभव नहीं हो सकता था।

"जैसे ही मैंने शुरू किया, मुझे यह पसंद आया," उसने कहा।

"मैं तलवारबाजी, शूटिंग और घुड़सवारी में लगातार अपने आप को प्रशिक्षित कर रही थी और मुझे उन नए खेलों को सीखने में बहुत आनंद आ रहा था, और अब आवश्यकता थी कि, अपने आप को लगातार उनके हिसाब से ढाला जाए।"

ओलंपिक शतरंज

आज, Elodie Clouvel पांच खेलों के लिए प्रशिक्षण की अपनी दैनिक दिनचर्या में पूरी तरह से ढल गई हैं - और वह सिर्फ तैराकी के लिए कभी नहीं लौट सकती।

वह बताती हैं, "मैं अपने आप को केवल एक खेल करते हुए नहीं देख सकती।"

"मुझे तैराकी पसंद है, लेकिन एक ही दिन में कई खेल करने से मुझे एक वास्तविक संतुलन मिलता है। हम पाँच खेलों में खुद को तैयार करते हैं, लेकिन हम खुद को बेहतर बनाने के लिए साइकिल चलाने जैसे अन्य विषयों पर भी काम कर रहे हैं ... जैसे, - कार्डियो, लेकिन एक अलग तरीके से।"

Clouvel का कहना है कि विभिन्न खेलों में वह प्रतिस्पर्धा करती हैं, जो एक तरह से शतरंज खेलने जैसा है।

"यह एक शतरंज मैच की तरह है - सुपर स्ट्रेटेजिक और आप दिन भर हार नहीं मान सकते। यह पूरी तरह से दांवपेंचों से भरा है और जीत का दावा करने का मौका हमेशा मिलता है।

"आपको आगे बढ़ने की जरूरत है।"

हमारा लक्ष्य? दो स्वर्ण पदक।

एक मेरे लिए और Valentin के लिए एक।

जहां परिवर्तन है वहां स्वर्ण पदक है!

रियो 2016 के बाद से, जहां Clouvel ने रजत पदक का दावा किया था - पहला ओलंपिक फ्रांसीसी आधुनिक पेंटाथलॉन पदक - वह अपने लक्ष्यों को रीसेट कर रही हैं।

Valentin Belaud के साथ, जो कि उनकी पार्टनर हैं और साथ ही ‘आधुनिक पेंटाथलान-चैंपियन’ भी हैं, Clouvel के लिए टोक्यो 2020 का लक्ष्य अब सरल हो गया है।

"दो स्वर्ण पदक- एक Valentin के लिए और एक मेरे लिए।"

फ्रेंच मुक्केबाजों, रियो 2016 में Tony Yoka और Estelle Mossely के बाद, नए गोल्डन कपल बनने के लिए, Elodie और Valentin ने अपनी टीम का पुनर्निर्माण किया है।

"जब आप ओलंपिक पदक विजेता या विश्व चैंपियन हो, तो आपके लिए सबसे महत्वपूर्ण बात होती है लगातार पुनर्मूल्यांकन करना और सर्वश्रेष्ठ की खोज करना।”

"हमें अपनी टीम के पुनर्निर्माण और एक नई प्रणाली को परिभाषित करने के लिए बदलाव की आवश्यकता थी, जो हमें पसंद है। अब हमारे पास नए कोचों के साथ एक नई टीम है।"

"हम प्रशिक्षण में बहुत अलग हैं, लेकिन हम एक-दूसरे को अच्छी तरह से समझते हैं।"

हालांकि Clouvel और Valentin के पास प्रत्येक क्षेत्र में विशिष्ट कोच है, परंतु इसके साथ ही, उन्होंने Meriem Salmi के साथ काम करने का फैसला किया - जोकि एक मनोवैज्ञानिक हैं और वह Teddy Riner सहित अन्य कई फ्रेंच चैंपियंस के साथ भी काम करती हैं।

उन्होंने अपनी टीम में डांस कोच Armelle Van Eecloo को भी शामिल किया। यह एक ओरिजिनल आईडिया था।

"यह हमारे प्रोफेशन का एक बहुत ही महत्वपूर्ण हिस्सा है जो हमें सही हावभाव प्राप्त करने, हमारी चालों को सुचारू बनाने और हमारे द्वारा किए जाने वाले हर चीज़ में मुक्त-प्रवाह होने की अनुमति देता है।

"हम उन शारीरिक मुद्राओं या आसनों को अपनाने करने की कोशिश कर रहे हैं जो हमारे लिए हर क्षेत्र में आवश्यक एवं मददगार हो सकते हैं।

"हम प्रशिक्षण में एक दूसरे से बहुत भिन्न हैं लेकिन हम एक-दूसरे को अच्छी तरह समझते हैं। हम अपने आप को ज्यादा से ज्यादा प्रशिक्षण और मेहनत में व्यस्त रखते हैं ताकि हम अपनी प्रतिभाओं को जल्दी से जल्दी निकाल सकें। हमारी एक दूसरे से भिन्नता ही हमारी ताकत हैं। तैराकी में, मैं उसकी मदद कर सकती हूं और वह घुड़सवारी और दौड़ में ऐसा करती है। हम ऐसे ही तारतम्य, सद्भाव और एनर्जी के साथ लगातार टोक्यो 2021 तक प्रशिक्षण में लगे रहना चाहते हैं।"

प्रतियोगिता अनुसूची की हालिया घोषणा के साथ, अब उनके अपॉइंटमेंट तय हो गए है - 6 अगस्त 2021, Elodie Clouvel के लिए तय हुआ है और 7 अगस्त, 2021 Valentin Belaud के लिए।