उनकी मां के स्वर्ण पदक जीतने के 30 साल बाद, Eilish McColgan का लक्ष्य टोक्यो में अच्छा प्रदर्शन करना है

Parliament Hill Athletics Track में 2019 Night of the 10,000m Pbs के दौरान महिला यूरोपीय 10,000 मीटर कप की दौड़ में ग्रेट ब्रिटेन के Eilish McColgan (Bryn Lennon/ गेटी इमेज द्वारा फोटो)
Parliament Hill Athletics Track में 2019 Night of the 10,000m Pbs के दौरान महिला यूरोपीय 10,000 मीटर कप की दौड़ में ग्रेट ब्रिटेन के Eilish McColgan (Bryn Lennon/ गेटी इमेज द्वारा फोटो)

टोक्यो में 1991 विश्व चैंपियनशिप में, ग्रेट ब्रिटेन की Eilish McColgan की मां ने एथलेटिक्स में स्वर्ण पदक जीता। तो Eilish के लिए, अगले साल टोक्यो खेलों में उसी शहर में वापसी विशेष होगी।

एक न भूलने वाला पल

Eilish McColgan को टोक्यो की यात्रा किए हुए 24 साल हो चुके थे। पिछली बार जब वह वहां थी तब वह नौ महीने की थी, लेकिन जिस शहर को वह "मेरे लिए इतना विशेष" बताती है, उसके लिए अभी भी बहुत भावुक मूल्य रखा गया है।

यह बात है वर्ष 2015 की, जब McColgan एंटी डोपिंग सम्मेलन के लिए टोक्यो में आई थी। लेकिन क्योंकि, वह एक एथलीट के रूप में, एक साल बाद रियो में अपने तीसरे ओलंपिक की तैयारी कर रही थी, उन्होंने स्थानीय पार्क में दौड़ने का फैसला किया।

McColgan याद करते हुए बताती हैं, "जब मैं पार्क के चारों ओर दौड़ रही थी तो एक आदमी ने मुझे रोका और मुझसे पूछा कि क्या मैं Liz McColgan की रिश्तेदार थी?"

“यह पागलपन नहीं तो और क्या था! मैं पूरी तरह से अपने दम पर, अकेले टोक्यो आई थी और मेरे साथ मेरे परिवार का कोई भी नहीं था। और मुझे सिर्फ मेरी मां के स्टाइल की वजह से पहचाना जा रहा था।"

McColgan, जोकि, दो बार की ओलंपियन हैं जो अगले साल टोक्यो में अपने तीसरे खेलों की तैयारी कर रही हैं, उनकी मां का भी जापान में अपना एक इतिहास रहा है।

अगले साल आयोजित होने वाले ओलंपिक खेलों में आज से ठीक 30 साल पहले, 1991 में, Liz McColgan (अब McColgan-Nuttall) ने 31:14:31 के रिकॉर्ड समय में टोक्यो में विश्व चैंपियनशिप में 10,000 मीटर की दौड़ में स्वर्ण पदक जीता था।

उल्लेखनीय रूप से, Eilish, जो नवंबर 1990 में पैदा हुई थी, उन विश्व चैंपियनशिप के समय केवल एक वर्ष की ही थी।

"टोक्यो एक ऐसा शहर है जो मेरे परिवार के दिलों के करीब है क्योंकि यह वह जगह है जहां मेरी मां ने 1991 में विश्व चैंपियनशिप जीती थी। मेरा जन्म नवंबर 1990 में हुआ था, और मैं एक साल से कम उम्र की थी, लेकिन मुझे लगता है कि मैं अपनी मां के साथ थी।"

अब लगभग तीन दशक बाद, वह ओलंपिक खेल टोक्यो 2020 में प्रतिस्पर्धा करने के लिए अपनी मां की सबसे बड़ी जीत की साइट पर लौटने की तैयारी कर रही हैं।

जब वह नौ महीने की थी, तब Eilish McColgan ने टोक्यो का दौरा किया था। उस समय, उनकी मां, Liz ने टोक्यो में विश्व चैंपियनशिप में भाग लिया था।
जब वह नौ महीने की थी, तब Eilish McColgan ने टोक्यो का दौरा किया था। उस समय, उनकी मां, Liz ने टोक्यो में विश्व चैंपियनशिप में भाग लिया था।
Images courtesy of Eilish McColgan.

एक बार, मैंने स्कॉटिश यूनिवर्सिटी चैंपियनशिप के दौरान सिर्फ पांच लोगों के सामने प्रदर्शन किया।

और फिर अचानक यहां मैं एक ओलंपिक खेलों की शुरुआत लाइन पर लंदन में थी।

तीन ओलंपिक, तीन इवेंट्स

टोक्यो से संबंधित सुंदर इतिहास के अलावा, वह 10,000 मीटर में प्रतिस्पर्धा करेंगी - जो अपने आप में एक अनोखी बात है।

लंदन 2012 ओलंपिक खेलों में, McColgan ने 3,000 मीटर स्टीपलचेज़ में भाग लिया। उस समय वह बहुत कम अंतरराष्ट्रीय अनुभव वाली एक अनुभवहीन धाविका थी।

"मुझे लगता है कि मेरी पिछली दौड़ में से एक स्कॉटिश यूनिवर्सिटी चैंपियनशिप थी जिसमें लगभग पांच लोग खड़े थे," McColgan ने कहा। "और फिर अचानक यहां मैं लंदन में एक ओलंपिक खेलों की शुरुआत लाइन पर थी।"

जबकि McColgan अपने पहले खेलों में फाइनल में जगह बनाने में नाकाम रहीं, उन्हें जो अनुभव मिला वह बहुत अच्छा था; उसका वर्णन करते हुए उन्होंने कहा - "यह कुछ ऐसा था जिसकी मैंने कभी कल्पना भी नहीं की थी, जिसके लिए मैंने कभी कोई योजना भी नहीं बनाई थी।"

रियो में चार साल बाद, McColgan एक और इवेंट में दौड़ रही थी - 5,000 मी।

हालांकि, यह चोट के कारण था कि वह 3000 मीटर स्टीपलचेज़ में प्रतिस्पर्धा नहीं कर पाई थी, लेकिन लंदन में उन्हें जो अनुभव मिला, उससे उन्हें रियो में बहुत मदद मिली। 2016 में, वह 5,000 मीटर में फाइनल में पहुंची और 15:12.09 के समय के साथ 13वें स्थान पर रहीं।

"जैसा कि मैं काफी रिलैक्स्ड थी इसने मेरे पक्ष में काम किया," उन्होंने समझाया। "मुझे वहां दौड़ने में मज़ा आया, मैंने हीट्स में अच्छा प्रदर्शन किया, फाइनल भी बहुत अच्छा था और मुझे लगता है कि मैं फाइनल के लिए योग्य थी और अपने व्यक्तिगत सर्वश्रेष्ठ रिकॉर्ड के भी करीब थी।"

अब क्षितिज पर टोक्यो के साथ, McColgan अभी भी एक अन्य इवेंट में प्रतिस्पर्धा करना चाहती हैं - वही इवेंट जिसमें उनकी मां ने 30 साल पहले भाग लिया था। हालांकि, खेलों के स्थगित होने से उन्हें यह हासिल करने में मदद मिली।

"एक 3000 मीटर धावक होने से लेकर 10,000 मीटर इवेंट में दौड़ना बहुत अलग है," उन्होंने कहा। लेकिन अब चूंकि मेरे पास इसकी तैयारी के लिए एक और साल है, मुझे लगता है कि यह एक आशीर्वाद है। इस एक साल मुझे मजबूत होने का समय देगा, इससे मुझे धीरज बनाने में मदद मिलेगी, और मैं 10,000 मीटर की दौड़ में भाग लेने के लिए मानसिक रूप से तैयार भी हो जाऊंगी।”

परिवार में इस तरह की चीजें होना बहुत अच्छा है,
इस तरह के रिकॉर्ड रखना जो मेरी मां से मुझे मिले हैं

पारिवारिक मामला

अक्टूबर 2019 में, McColgan ने एक ऐसा रिकॉर्ड तोड़ा जो 1997 से बरकरार था।

यह एक रिकॉर्ड था जो उनकी मां के नाम था।

जब उन्होंने 51:38 में ग्रेट साउथ रन में दौड़ पूरी की, तो वह न केवल दूसरी सबसे तेज ब्रिटिश महिला (पहली Paula Radcliffe) बन गई, बल्कि उन्होंने अपनी मां के स्कॉटिश 10-मील के रिकॉर्ड को लगभग 30 सेकंड से भी तोड़ दिया।

McColgan कुछ वर्षों तक कड़ी मेहनत करके उस परिणाम को प्राप्त करने में सक्षम थी, और महत्वपूर्ण बात यह है कि उन्हें उनकी मां ने ही प्रशिक्षित किया था।

"मेरी मां हमेशा मुझसे कहती थीं कि मुझे उनके रिकॉर्ड तोड़ने में सक्षम होना चाहिए," Eilish ने समझाया। "लेकिन मैं ऐसा करने के बारे में आश्वस्त नहीं थी क्योंकि मुझे पता था कि मेरी मां एक महान एथलीट थी और उन्होंने उन रिकॉर्डों को बनाने के लिए वास्तव में बहुत मेहनत की थी।"

और जैसे ही McColgan ने अपनी मां के रिकार्ड्स को तोड़ना शुरू किया, एक संतोष था कि वे रिकॉर्ड परिवार में बने रहेंगे।

उन्होंने कहा - "मुझे लगता है कि पिछले कुछ सालों में उस स्तर पर दौड़ना वाकई में बेहतर रहा, जहां मेरी मां चाहती थी मैं प्रतिस्पर्धा करूं।"

“परिवार में इस तरह की चीजें होना बहुत अच्छा है, इस तरह के रिकॉर्ड रखना जो मेरी मां से मुझे मिले हैं।”

View this post on Instagram

"If you are not willing to risk the usual, you will have to settle for the ordinary." 🙃 - 2019s been a good un! Most consistent I've ever been (well from April onwards 🤣). It feels good to be ending on a high with two Scottish records, healthy and happy! 💙 - 10.1mile splits (according to my watch but I'm assuming I ran wide on all the bends 🤣): 5.07, 5.12, 5.12, 5.20 (giraffe legs struggling round the corners🦒), 5.08, 4.57 (Michael practically abusing my ears making me think I was off pace 🏃🏼‍♀️) 5.08, 5.06, 4.54, 4.57. (⌚@polaruk_ire Vantage M) - 2019 summer season. Over and out! 🙌🏻 . . . . . . . . #summersover #portsmouth #ASICS #polar #fastgirls #fit #jj #fitness #fitspo #athletics #runner #longlegs #runnergirl #racing #motivationmonday

A post shared by Eilish McColgan (@eilishmccolgan) on

टोक्यो मेरा उद्देश्य है

Eilish के लिए, इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि वह स्वर्ण पदक जीतती है या नहीं, उनका उद्देश्य अपने व्यक्तिगत सर्वश्रेष्ठ के करीब दौड़ना है, जो संतोषजनक होगा।

"जब तक मैं अपने सर्वश्रेष्ठ पर दौड़ने पर ध्यान केंद्रित कर सकती हूं, यह मेरे लिए कोई मायने नहीं रखता अगर मैं पहले, दूसरे, तीसरे या अंतिम स्थान पर आती हूं। जो मेरे हाथ में है, वो अपना बेस्ट देना हैं।“

हालाँकि, उनका उद्देश्य केवल टोक्यो ओलंपिक खेलों में प्रदर्शन करना ही नहीं है, बल्कि पेरिस 2024 में अपने चौथे ओलंपिक खेलों में उपस्थित होना भी है।

लेकिन इस बार एक अलग इवेंट में - मैराथन। यह एक ऐसी इवेंट है जिसमें उनकी मां का मानना है कि वह वास्तव में अच्छा कर सकती है।

"जब मैं ग्रेट ब्रिटैन टीम का हिस्सा बनी, तो हमारा एक फिजियोलॉजिकल टेस्ट किया गया और यह Barry Fudge ने किया जो उस समय सहनशीलता के हेड थे, और उन्होंने मेरी मां को लिखा था कि मेरे पास एक मैराथन के लिए सही शारीरिक कौशल थी।"

"और मेरे लिए, उस पॉइंट पर, यह दिल तोड़ने वाला था! मैंने सोचा, "हे भगवान, मुझे अपने जीवन में किसी एक पॉइंट पर मैराथन भी करना होगा! "

लेकिन अभी, उनका अंतिम उद्देश्य 10,000 मीटर की प्रतियोगिता में अच्छा प्रदर्शन करना और उस शहर में खुद के लिए एक नाम बनाना है जहां उनकी थी ने 30 साल पहले स्वर्ण पदक जीता था।