Don Schollander: गोल्डन बॉय

1964 टोक्यो ओलंपिक में संयुक्त राज्य अमेरिका के Don Schollander विजेताओं मंच पर पुरुषों की 100 मीटर फ़्रीस्टाइल के लिए स्वर्ण पदक प्राप्त करने के लिए खड़े हैं। उनके साथ ग्रेट ब्रिटेन के रजत पदक विजेता Robert McGregor (दाएं) और जर्मनी के कांस्य पदक विजेता Hans Klein हैं। (Keystone/Getty Images द्वारा फोटो)
1964 टोक्यो ओलंपिक में संयुक्त राज्य अमेरिका के Don Schollander विजेताओं मंच पर पुरुषों की 100 मीटर फ़्रीस्टाइल के लिए स्वर्ण पदक प्राप्त करने के लिए खड़े हैं। उनके साथ ग्रेट ब्रिटेन के रजत पदक विजेता Robert McGregor (दाएं) और जर्मनी के कांस्य पदक विजेता Hans Klein हैं। (Keystone/Getty Images द्वारा फोटो)

अक्टूबर 1964 में, टोक्यो ने अपने पहले ओलंपिक खेलों की मेजबानी की थी। उन ऐतिहासिक पलों को याद करते हुए टोक्यो 2020 आपको कुछ सबसे अविश्वसनीय और जिंदादिल इवेंट्स से रूबरू कराएगा, जो आज से 56 साल पहले हुई थी। श्रृंखला के इस भाग में, हम Don Schollander के अविश्वसनीय चार बार स्वर्ण पदक हासिल करने वाले आश्चर्यजनक कारनामों पर एक नज़र डालते हैं। 

बैकग्राउंड

Donald Arthur Schollander - जिन्हें बाद में Don Schollander के नाम से जाना गया - 30 अप्रैल 1946 को नॉर्थ कैलिफोर्निया (यूएसए) के चार्लोट में पैदा हुए थे।

हालांकि, उनकी पहली पसंद अमेरिकी फुटबॉल थी, लेकिन केवल 18 साल की उम्र में वह ओलंपिक खेलों टोक्यो 1964 में तैराकी में स्वर्ण पदक जीतने के दावेदार थे।

लेकिन इतनी कम उम्र में वह इतना प्रसिद्ध कैसे हो गए?

Schollande सांता क्लारा स्विम क्लब का हिस्सा थे, जहां उन्होंने कई दूरी पर अमेरिकी रिकॉर्ड तोड़ने शुरू किए। खेलों से करीब एक साल पहले उनकी प्रसिद्धि का सबसे बड़ा दावा तब हुआ जब वह दो मिनट (1: 58.4) के तहत 200 मीटर तैराकी करने वाले पहले व्यक्ति बने। उन्होंने 1963 और 1968 के बीच नौ बार इस रिकॉर्ड को तोड़ा।

टोक्यो 1964 खेलों से कुछ महीने पहले, Schollander ने 200 मीटर फ्रीस्टाइल और 400 मीटर फ्रीस्टाइल विश्व रिकॉर्ड तोड़कर एक बार फिर दुनिया को चकित कर दिया था।

वह खेलों में पसंदीदा कैसे नहीं हो सकते हैं?

टोक्यो 1964 में Don Schollander

आश्चर्य से भरे शानदार पल...

भले ही Schollander हर किसी के फेवरेट थे, फिर भी वह कुछ ऐसा करने में कामयाब रहे जो पहले कभी नहीं देखा गया था - वह एक ही ओलंपिक खेलों में चार स्वर्ण पदक जीतने वाले इतिहास में पहले तैराक बने (और साथ ही टोक्यो 1964 में किसी भी अनुशासन के सबसे सफल एथलीट भी)।

इतना हासिल करने के बाद, वह महान Jesse Owens के बाद से ओलंपिक में सबसे सफल अमेरिकी एथलीट बन गए।

Schollander ने अपने सभी प्रतिद्वंद्वियों को 100 मीटर फ़्रीस्टाइल, 400 मीटर फ़्रीस्टाइल, 4x100 मीटर रिले और 4x200 मीटर रिले में हराया। इस प्रक्रिया में उन्होंने 400 मीटर फ़्रीस्टाइल में एक नया विश्व रिकॉर्ड और रिले इवेंट्स में दो और विश्व रिकॉर्ड स्थापित किए। और जब वह 100 मीटर फ्रीस्टाइल में विश्व रिकॉर्ड को तोड़ने कामयाब नहीं हुए, तो उन्होंने एक नया ओलंपिक रिकॉर्ड बनाया।

एक ओलंपिक में इतना कुछ जीतना और रिकॉर्ड तोड़ना, वह भी तब, जबकि उनका पसंदीदा इवेंट- 200 मीटर फ्रीस्टाइल - भी उस में शामिल नहीं किया गया था, यह एक आश्चर्यजनक उपलब्धि है।

क्या था Schollander के लिए भविष्य में…

अगले चार वर्षों में, Schollander अपने फॉर्म में जारी रहा और वह ओलंपिक खेलों मेक्सिको 1968 में चमके - 200 मीटर फ़्रीस्टाइल में रजत और 4x200 मीटर रिले में स्वर्ण जीता। हालांकि उन्होंने 4x100 मीटर मेडले और 4x100 मीटर फ़्रीस्टाइल स्पर्धाओं के फाइनल में प्रतिस्पर्धा नहीं की थी, लेकिन जिस तथ्य के साथ उन्होंने हीट्स में भाग लिया था, उसका मतलब था कि उन्हें दोनों स्पर्धाओं के लिए स्वर्ण पदक प्राप्त हुए हालांकि, वे अंततः टीम यूएसए द्वारा जीते गए।

घर पहुंचने पर, Schollander को USA के एथलीट ऑफ द ईयर के रूप में सराहा गया।

लेकिन उस समय तक, अमेरिकी एथलीट, Schollander काफी थक चुके थे। 1968 के मैक्सिको में अपनी सफलताओं के बाद, उन्होंने घोषणा की कि उन्हें "पानी से परेशानी थी और वह अगले दो वर्षों तक स्नान नहीं करेंगे।"

हालांकि उन्होंने खेलों के बाद संन्यास ले लिया, Schollander के करतब, जिन्होंने अपने कैरियर के दौरान 19 वर्ल्ड रिकॉर्ड स्थापित किए, कभी नहीं भुलाए जा सकते।

ओलिंपिक चैंपियन, जो अब 74 वर्ष के हो चुके हैं, 1983 में संयुक्त राज्य अमेरिका ओलंपिक हॉल ऑफ फेम में शामिल किए गए थे।