जब Vijender Singh, Manoj Kumar ने की कैंसर-पीड़ित Dingko Singh की मदद

भारत के Dingko Singh (ब्लू) ने सिडनी 2000 ओलंपिक खेलों के 6वें दिन में 54 किग्रा मुक्केबाजी राउंड 2 बाउट में प्रतिस्पर्धा की। (फोटो क्रेडिट: Gary M Prior/Allsport)
भारत के Dingko Singh (ब्लू) ने सिडनी 2000 ओलंपिक खेलों के 6वें दिन में 54 किग्रा मुक्केबाजी राउंड 2 बाउट में प्रतिस्पर्धा की। (फोटो क्रेडिट: Gary M Prior/Allsport)

संकट के इस समय में, अपने साथियों द्वारा मिल रही इस भारतीय मुक्केबाज़ की मदद की एक अनोखी कहानी, सब का मन्न बेहला देगी।

Dingko Singh, एक पूर्व भारतीय मुक्केबाज, जो वर्तमान में लीवर कैंसर से जूझ रहे हैं, को 25 अप्रैल को अपनी निर्धारित रेडिएशन चिकित्सा के लिए नई दिल्ली ले जाया गया।

खैर, यह बड़ी कहानी का एक छोटा सा हिस्सा है।

मुक्केबाज Manoj Kumar के साथ मुक्केबाजी में बीजिंग ओलंपिक 2008 के कांस्य पदक विजेता Vijender Singh, देश के पूर्व बैंटमवेट मुक्केबाज के इलाज के लिए धन जुटाने में मदद करने के लिए एक साथ आगे आए।

बैंकाक में 1998 के एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीतने वाले 41 वर्षीय, भारत में राष्ट्रव्यापी बंद के कारण इम्फाल में अपने घर तक ही सीमित थे। पूर्व मुक्केबाज ने अपने निर्धारित उपचार के लिए नई दिल्ली की यात्रा की व्यवस्था करने के लिए खेल मंत्रालय से मदद मांगी।

न केवल Vijender Singh और Manoj Kumar, बल्कि भारतीय खेल मंत्रालय भी उनकी मदद की।

PTI से बात करते हुए Vijender ने कहा, "हमारा एक व्हाट्सप्प ग्रुप है....Manoj ने वहां पर Dingko के बारे में पोस्ट किया था। हमने किसी तरह Dingko की बैंक की डिटेल्स निकाली और हम सब जितना अपनी तरफ से कर सकते है उतना उसके लिए योगदान कर रहे है। पेशेवर मुक्केबाज ने कहा, “Dingko हमारे लिए एक आइकन है। हमें आगे आना पड़ा क्योंकि हर मुक्केबाज इस लायक है कि उसका समुदाय जरूरत के समय उसकी सहायता के लिए आए।"

इस बीच, 22 अप्रैल से शुरू हुए इस इनिशिएटिव ने लगभग 1 लाख भारतीय रुपये एकत्र किए हैं, जबकि और अधिक पैसा आ रहा है।

भारतीय बॉक्सर, Vijender Singh, Manoj Kumar के साथ Dingko Singh के इलाज के लिए धन जुटाने में मदद करने के लिए आगे आए हैं। (Jordan Mansfield / गेटी इमेज द्वारा फोटो)
भारतीय बॉक्सर, Vijender Singh, Manoj Kumar के साथ Dingko Singh के इलाज के लिए धन जुटाने में मदद करने के लिए आगे आए हैं। (Jordan Mansfield / गेटी इमेज द्वारा फोटो)
2015 Getty Images

नई दिल्ली, जहाँ कोरोना वायरस से पीड़ित मरीजों की संख्या काफी है, एक हॉटस्पॉट बना हुआ है। और यही कारण है की वहां कोई भी विमान नहीं उतर सकता।

इसने अर्जुन और पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित Dingko Singh के लिए कुछ समस्या का संकेत दिया।

ANI से अपनी चिंताओं को व्यक्त करते हुए, Dingko ने कहा, "मैंने लॉकडाउन अवधि को ध्यान में रखते हुए कई बार टिकट बुक किए थे लेकिन यह अब और बढ़ गया है, इसलिए टिकट रद्द हो गए।"

लेकिन कहते हैं ना, 'जहाँ चाहा है, वहां रहा है।'

उनकी याचिका सुनी गई - BFI के प्रमुख Ajay Singh, जो एक भारतीय एयरलाइन - SpiceJet के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक हैं, ने उन्हें एयरलाइन की एयर एम्बुलेंस सेवा प्रदान करके मुक्केबाज की मदद की।

Dingko अपनी पत्नी Ngangom Babai Devi के साथ, शनिवार (25 अप्रैल) को नई दिल्ली पहुंचे थे और सीधे एम्बुलेंस में Institute of Liver and Biliary Sciences (ILBS) में गए थे।

Amit Singh ने कहा, "मैं खुश हूं कि हमारे चैंपियन मुक्केबाज Dingko दिल्ली पहुंच गए हैं और उन्हें आगे के इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया है। SpiceJet हमारे राष्ट्रीय नायक को अपनी एयर एम्बुलेंस सेवा प्रदान करने और उन्हें दिल्ली भेजने के लिए सम्मानित है। उनका इलाज और हम उनके शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करते हैं।“

इस बीच, बॉक्सिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया उनकी उपचार रिपोर्ट पर नज़र रखेगा।