बचपन में बाइक से घृणा करते थे Daniel Dhers, बाद में बने चैंपियन

वेनेज़ुएला के Daniel Dhers 2019 लीमा पैन अमरीकी खेलों की बीएम्एक्स फ्रीस्टाइल प्रतियोगिता में भाग लेते हुए। (Buda Mendes/Getty Images द्वारा फोटो)
वेनेज़ुएला के Daniel Dhers 2019 लीमा पैन अमरीकी खेलों की बीएम्एक्स फ्रीस्टाइल प्रतियोगिता में भाग लेते हुए। (Buda Mendes/Getty Images द्वारा फोटो)

वेनेज़ुएला के अंतर्राष्ट्रीय बीएम्एक्स फ्रीस्टाइल सितारे, Daniel Dhers अगले साल होने वाले टोक्यो 2020 खेलों में अपनी ओलंपिक यात्रा की शुरुआत करेंगे।  

दिलचस्प बात यह है की जब Daniel Dhers चार वर्ष के थे, उनके माता-पिता ने जन्मदिन पर उपहार के रूप में उन्हें साइकिल ला कर दी लेकिन उन्हें वह पसंद नहीं आयी।

तीन दशक बाद परिस्थितियां बिलकुल विपरीत हैं, और 35-वर्षीय Dhers बाइक के बिना अपने जीवन की कल्पना भी नहीं कर सकते।

अगले वर्ष जब बीएम्एक्स फ्रीस्टाइल ओलंपिक इतिहास में पहली बार खेला जायेगा तब वेनेज़ुएला के Dhers स्वर्ण पदक के दावेदारों में से एक होंगे।

'जब आप हमें देखेंगे, तो आपको लगेगा की हम पागल हैं। हालांकि हमारी शुरुआत साधारण होती है पर थोड़ी ही देर में हम आपको हवा में दिखाई पड़ते है।'

टोक्यो ओलंपिक खेलों के लिए क्वालीफाई करने से पहले यह जानना अनिवार्य है की उनका पहला बाइक कैसा था।

टोक्यो 2020 से बात करते हुए, Dhers ने बताया, 'जब मैं चार वर्ष का था तो मुझे उपहार के रूप में एक साइकिल मिली और मुझे याद है की सहयोग देने के लिए उसमें दो पहिये भी थे। मैंने साइकल चलायी और मैं गिर गया जिसके बाद मैंने अपनी माँ से कहा की मुझे वह साइकिल नहीं चाहिए थी।'

'उस दिन के बाद मैंने वह साइकिल कभी नहीं चलायी पर जब मैं 12 वर्ष का था और मेरे दोस्तों ने बाइक चलानी शुरू की जिसकी वजह से मुझे वापस सीखना पड़ा।'

'कुछ समय बाद मुझे साइकिल से इतना लगाव हो गया की मेरा स्कूल जाने का मन नहीं करता था। मेरे इस लगाव के कारण घर में कभी तनाव की स्थिति बन जाती थी और एक बार गुस्से में मेरी माँ ने साइकिल गाड़ी के नीचे छुपा दी थी। लेकिन मेरे परिजनों ने हमेशा मेरा साथ दिया।'

कुछ ही सालों बाद, Dhers और उनका परिवार अर्जेंटीना में बसने चले गए और तब वह बस 16 साल के थे।

Dhers 20 वर्ष की आयु तक मन बना चुके थे की बीएम्एक्स फ्रीस्टाइल को ही अपना जीवन बनाएंगे और आगे बढ़ने के लिए अमरीका चले गए।

अपने चयन के बारे में बात करते हुए, Dhers ने बताया, 'जब आप हमें देखेंगे, तो आपको लगेगा की हम पागल हैं। कुछ लोग सोचते होंगे की हम यह क्यों कर रहे हैं? हालांकि हमारी शुरुआत साधारण होती है पर थोड़ी ही देर में हम आपको हवा में दिखाई पड़ते है। पहले एक सामान्य करतब करते हैं और धीरे से कठिन पैंतरों की ओर बढ़ते हैं।'

जोखिम

Dhers के परिवार ने उनका पूरी तरह से साथ दिया लेकिन उनके माता पिता को यह भी पता है की इस खेल में चोट लगना संभव है। इस बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा, 'आपको हर खेल में चोट लग सकती है।'

उन्हें इस बात का भी अंदाज़ा नहीं है कि उन्हें पूरे करियर में कितनी चोटें लगी हैं, पर एक चोट वह कभी नहीं भूलेंगे।'

'साल 2003 में मेरी काठ की हड्डी, ऊँगली और पसली तीनो टूट गए थे और गिरने के बाद मुझे खून की उलटी भी हुई थी। मैं एक करतब दिखते समय बेवकूफी कर बैठा और गिर गया।'

'यह घटना ब्राज़ील में होने वाले एक्स गेम्स के पहले हुई थी, और वह मेरी पहली प्रतियोगिता होने वाली थी। उस समय मुझे इतनी निराशा हुई की मैंने सन्यास लेने के बारे में सोच लिया था।'

'मुझे यह भी याद है की जब मैं रियो डी जनेरो के होटल से बाहर निकल रहा था तो एक पत्रकार और एक बीएमएक्स खिलाड़ी ने मुझे कहा कि मेरा प्रदर्शन अच्छा था। उनके शब्दों से मुझे बहुत प्रेरणा मिली।'

'मैंने घर आने के बाद नकारात्मक तरीके से सोचना बंद कर दिया और अगले वर्ष प्रतियोगिता की तैयारी शुरू कर दी।'

Dhers की राय में एक खिलाड़ी के लिए चोट लगना सबसे बड़ी चुनौती होती है।

'यह चोट मेरे लिए सबसे मुश्किल थी और मैं बहुत भावुक था। आयु बस 16 वर्ष होने के कारण मुझे कुछ समझ नहीं आ रहा था। मुझे ऐसे लगा कि मेरे संसार का अंत हो चुका था और यह मेरे लिए सबसे बड़ी मानसिक चुनौती थी।'

चोट, हार और जोखिम भी Dhers को रोक नहीं पाते और उसके पीछे एक ही कारण है। उनकी लगन और बाइक के ऊपर बैठ कर उड़ने की ख़ुशी।

'यह अनुभव अद्भुत है, और शायद यही कारण है की मैं इस खेल से जुड़ा हुआ हूँ। आप जब प्रतिस्पर्धा में होते हैं तो जुनून और तनाव के एक अलग मिश्रण का अनुभव होता है। यह पागलपन है और प्रतियोगिता शुरू होने के पहले थोड़ा दर्द ज़रूर होता है पर बाद में सब ठीक हो जाता है।'

बीएम्एक्स फ्रीस्टाइल के बारे में बात करते हुए, Dhers ने कहा, 'कभी तो ऐसा लगता है की आपके पेट में छेद हो गया है और कभी आपको बस आनंद आता है। जब आप हवा में होते हैं तो आपको एक पक्षी जैसा अनुभव होता है। एक सामान्य मनुष्य धरती से अलग नहीं हो सकता लेकिन हम यह करने कि पूरी कोशिश करते हैं।'

सफलता

Daniel Dhers अपने खेल के सर्वेश्रेष्ठ खिलाड़ियों में से एक हैं और वह अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर मुकाबला करते हैं। उन्होंने 2019 में एक बीएम्एक्स फ्रीस्टाइल प्रतियोगता में एक स्वर्ण पदक जीता, और एक्स खेलों में उन्होंने 5 स्वर्ण और एक कांस्य भी जीता हैं।

संक्षेप में कहें तो वह अपने खेल में जीतने वाले सारे संभव पदक जीत चुके हैं।

Dhers और उनके जैसे अन्य सितारों के लिए सबसे बड़ी चुनौती यह होती है की बीएम्एक्स फ्रीस्टाइल जैसे नए खेल में अगले पड़ाव का खुद निर्माण करना पड़ता है।

इस बारे में बात करते हुए, उन्होंने कहा, 'जब आप किसी नए खेल में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन दिखाने में सफल हो जाते हैं, अगले पड़ाव की आपको रचना करनी पड़ती है। कुछ साल पहले मैंने एक पैंतरा निर्मित किया, और थोड़ी मेहनत थोड़े भाग्य की वजह से वह सफल हो गयी।'

"जो चीज़ है नहीं उसकी कोई कुंजी नहीं होती है और आपको अपने दिमाग से नयी चीज़ का निर्माण करना पड़ता है।

ओलंपिक खेलों में भाग लेने के लिए मैं बहुत उत्सुक हूँ।'

वेनेज़ुएला के Daniel Dhers 2019 लीमा पैन अमरीकी खेलों की बीएम्एक्स फ्रीस्टाइल प्रतियोगिता में भाग लेते हुए। (Buda Mendes/Getty Images द्वारा फोटो)
वेनेज़ुएला के Daniel Dhers 2019 लीमा पैन अमरीकी खेलों की बीएम्एक्स फ्रीस्टाइल प्रतियोगिता में भाग लेते हुए। (Buda Mendes/Getty Images द्वारा फोटो)
2019 Getty Images

ओलंपिक खेलों का जूनून

अंतर्राष्ट्रीय ख़िताब, नए पैंतरे बनाने और उड़ने के साथ, Dhers अपने खेल में हर चुनौती को परास्त कर चुके हैं पर ओलंपिक खेलों का पड़ाव अभी बाकी है।

इसी बारे में उन्होंने कहा, 'मुझे ओलंपिक खेलों में भाग लेना है क्योंकि बस अब वही एक चुनौती बाकी है।'

'मैं इस खेल में 15-16 वर्षों से हूँ और मैं सारी विश्व प्रतियोगिताओं में हिस्सा ले चुका हूँ पर मैंने कभी कल्पना नहीं करी थी की ओलंपिक खेलों में हिस्सा लेने का मौका मिलेगा। कुछ समय पहले इस बारे में चर्चा ज़रूर हुई थी पर मुझे लगा की हमारे खेल को 2024 ओलिंपिक खेलों में शामिल किया जाएगा और मैं तब खिलाड़ी नहीं रहूँगा। इसलिए जब 2020 खेलों में बीएम्एक्स फ्रीस्टाइल का चयन हुआ तो मुझे लगा की यह मौका जीवन में फिर कभी नहीं आएगा।'

'सच कहूं तो मैंने खेल से सन्यास लेने का पूरा मन बना लिया है लेकिन जब घोषणा हुई तो मैंने अपने आप से कहा की मेरे अंदर बहुत क्षमता थी और मैं लड़ सकता हूँ।'

'ओलंपिक खेलों में भाग लेना ही एक सफलता के जैसा है पर मेरा लक्ष्य पदक जीतना है और यह मेरे करियर के लिए सोने पर सुहागा जैसी बात होगी। इसलिए मैं बहुत उत्सुक हूँ और भावुक भी।'

खिलाड़ियों के अलावा दर्शक और प्रशंसक भी इस खेल को ओलंपिक में देखने के लिए उत्सुक हैं।

'इस प्रतियोगिता में एक नयी तरह की ताज़गी और पागलपन है जो यह बाकी सारे ओलंपिक खेलों से अलग होगा। सर्फिंग, स्केटबोर्डिंग और बीएम्एक्स फ्रीस्टाइल जैसी प्रतियोगिताएं ओलंपिक खेलों को और आकर्षक बनाएंगे।'

बीएम्एक्स फ्रीस्टाइल खेल के दृष्टिकोण से ओलंपिक खेलों में होना प्रगति के लिए बहुत महत्वपूर्ण होगा।

'इस खेल ने पिछले 20 साल में बहुत प्रगति करी है और अब हमें अपनी प्रतिभा और कुशलता दिखने का पूरा मौका मिला है। शुरुआती दौर में बहुत से लोगों ने इस खेल को एक नकारातमक सोच से देखा लेकिन ओलंपिक खेलों का हिस्सा होना हमारी प्रगति का प्रतीक है।'

बीएम्एक्स फ्रीस्टाइल की लोकप्रियता में Dhers का बहुत बड़ा योगदान रहा है और यह जबकि उन्हें बचपन में साइकल पसंद नहीं थी।

'नीचे गिर जाने में और चोट खाने में कोई कठिनाई नहीं है। यह जानना ज़रूरी है की आपको उसके बाद उठना पड़ेगा और सामने खड़ी चुनौती को परास्त करना होगा।'